Ghaziabad Coronavirus Alert ! संक्रमण से निपटने के लिए UPSIDA की पहल पर उद्यमियों ने खोले हाथ

Ghaziabad Coronavirus Alert ! संक्रमण से निपटने के लिए UPSIDA की पहल पर उद्यमियों ने खोले हाथ

जिले के उद्यमियों ने भी कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए हाथ खोल दिए हैं। फिलहाल करीब 200 इकाइयों ने जिला प्रशासन व विभिन्न अस्पतालों को 2000 से अधिक आक्सीजन सिलेंडर सौंपे हैं। वहीं इकाइयों के संक्रमित कामगारों के लिए 40 इकाइयों ने आइसोलेशन वार्ड में 211 बेड लगाए हैं।

Jp YadavSat, 15 May 2021 08:32 PM (IST)

गाजियाबाद [शाहनवाज]। उप्र राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) की पहल पर जिले के उद्यमियों ने भी कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए हाथ खोल दिए हैं। फिलहाल करीब 200 इकाइयों ने जिला प्रशासन व विभिन्न अस्पतालों को दो हजार से अधिक आक्सीजन सिलेंडर सौंपे हैं। वहीं, इकाइयों के संक्रमित कामगारों के लिए 40 इकाइयों ने आइसोलेशन वार्ड में 211 बेड भी लगाए हैं।

यूपीसीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) मयूर माहेश्वरी ने अधिकारियों व जिले के उद्यमियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संक्रमणकाल में भूमिका के बारे में बात की, जो कोरोना योद्धा के रूप में उभरे हैं। हाल ही में उद्यमियों ने अस्पताल व प्रशासन को आक्सीजन सिलेंडर सौंपे।

बता दें कि यूपीसीडा औद्योगिक क्षेत्रों में करीब 11 हजार छोटे-बड़े उद्योग हैं, जिनमें करीब डेढ़ लाख कामगार कार्यरत हैं। वीडियो कांफ्रेंसिंग में उन्होंने बताया कि कच्चे माल की कमी, तैयार माल को भेजने में आ रही कुछ दिक्कतों के बीच जिले के करीब 85 फीसदी उद्योग क्रियान्वित हो रहे हैं। जिनमें एक लाख से अधिक कामागार काम कर रहे हैं। यूपीसीडा अधिकारियों की ओर से पिछले दिनों पंचायत चुनाव व अन्य कार्याें के लिए घरों पर लौटे बहुत से कामगार वापस लौटने का दावा किया है।

उद्योगों में आक्सीजन की जगह प्लाज्मा कटर

आयरन उद्योगों में आक्सीजन का भी उपयोग होता है। संक्रमणकाल में आक्सीजन की कमी होने पर उद्योगों की आक्सीजन सप्लाई पूरी तरह बंद कर दी गई है। ऐसे में इन उद्योगों में बंदी का संकट आन खड़ा हुआ। बहुत से उद्योग बंद भी हो गए। ऐसे में कंप्यूटरीकृत प्लाज्मा कटर मशीन ने ऐसी इकाइयों के लिए आक्सीजन का काम किया है। इस मशीन से औद्योगिक जरूरतों के हिसाब से 50 मिमी मोटाई की स्टील शीट को काटा जा सकता है।

बाहरी जिलों को भेजी मदद

जिले की औद्योगिक इकाइयों की बात करें तो जीटी रोड इंडस्ट्रियल एरिया से एक इकाई ने 100 आक्सीजन कंसंट्रेटर्स शहर के लोगों के लिए उपलब्ध कराए। वहीं, साहिबाबाद एरिया की इकाई ने गोरखपुर आक्सीजन प्लांट के सिलेंडर वाल्व, नट फिलिंग और निप्पल फिलिंग सप्लाई की। अलीगढ़ के लिए आक्सीजन कंसंट्रेटर्स बनाने के लिए जियोलाइट उपकरण सप्लाई किया।

स्मिता सिंह (सहायक महाप्रबंधक, गाजियाबाद) के मुताबिक, कोरोना संक्रमणकाल में आक्सीजन की कमी को देखते हुए जिला प्रशासन के सहयोग से यूपीसीडा ने टास्क फोर्स गठित की है। इसमें यूपीसीडा औद्योगिक क्षेत्र के उद्यमियों से आक्सीजन सिलेंडर देने की अपील की गई, जिसके तहत 200 इकाइयों के 2000 सिलेंडर अस्पतालों और प्रशासन को सौंपे गए। साढ़े पांच हजार से अधिक इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क बनाई गई हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.