top menutop menutop menu

लूटी गई बाइक से आए थे गोली मारने का आरोपित

जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : बहन की बरात के स्वागत की तैयारी में लगे एमआर को गोली मारने वाले लूटी गई बाइक से आए थे। वह 18 जनवरी को मोदीनगर क्षेत्र से लूटी गई थी। मंगलवार को घायल ने बयान में किसी तरह की लड़ाई या रंजिश से इन्कार किया है। घटना के एक दिन बाद भी न तो हमले की वजह का पता चल पाया है और न ही आरोपितों की पहचान हुई है। वहीं चचेरे भाई को गोली लगने के बाद तनावपूर्ण माहौल में सोमवार को युवती की शादी हुई।

सोमवार दोपहर बाद साढ़े तीन बजे सिहानी सद्दीकनगर निवासी श्रीकांत त्यागी (32) को स्प्लेंडर बाइक से आए दो बदमाशों ने गोली मार दी थी। 10 नंबर भट्ठा रोड स्थित अपने फार्महाउस पर वह चचेरी बहन शिवानी की बारात की तैयारी में जुटे थे।

पिस्टल सटाने के बाद भी आरोपित ने कमर में गोली मारी। इससे कयास लगाए जा रहे हैं आरोपितों का इरादा श्रीकांत को घायल करना ही था। दिल्ली पुलिस में सिपाही श्रीकांत के बड़े भाई विक्रांत त्यागी की ओर से अज्ञात हमलावरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी।

मेडिकल स्टोर चलाने वाले श्रीकांत ने बयान में कहा कि कारोबार या व्यक्तिगत किसी भी स्तर पर उनकी कोई रंजिश नहीं है। हाल-फिलहाल में कोई झगड़ा या रोडरेज भी नहीं हुआ है। दोस्त सुमित और स्वजनों ने भी सोमवार को यही कहा था कि श्रीकांत बेहद अच्छे स्वभाव के हैं। एसएचओ ने बताया कि बदमाश मोदीनगर से लूटी बाइक पर सवार होकर आए थे। आशंका है कि हमले की साजिश पहले से रची जा रही थी और बाइक भी इसीलिए लूटी गई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.