सीआइएसएफ रोड पर मैनहोल से हादसे का खतरा

फोटो 27 एसबीडी 12 - बीच में हैं सड़क की सतह से ऊंचे मैनहोल टकरा सकते हैं वाहन जागरण्

JagranTue, 27 Jul 2021 09:20 PM (IST)
सीआइएसएफ रोड पर मैनहोल से हादसे का खतरा

फोटो 27 एसबीडी 12

- बीच में हैं सड़क की सतह से ऊंचे मैनहोल, टकरा सकते हैं वाहन

जागरण संवाददाता, साहिबाबाद :

सीआइएसएफ रोड पर भले ही गिट्टी डालकर गड्ढे भरने का काम चल रहा है, लेकिन मैनहोल से हादसे का डर बना हुआ है। मैनहोल सड़क की सतह से करीब एक फुट ऊपर हैं। सीआइएसएफ रोड पर अंधेरा रहता है। इससे हादसे का डर है। वहीं, गड्ढे भरने का काम पूरा न होने से यातायात प्रभावित होता है। हजारों राहगीर परेशान होते हैं।

इंदिरापुरम के शक्ति खंड - चार के एसटीपी के पानी को एनएच- नौ के किनारे नाले तक ले जाने के लिए सीआइएसएफ रोड की खोदाई कर पाइपलाइन डाली गई है। जल निगम की ओर से गाजियाबाद की लाल चंद एंड कंपनी को पाइपलाइन डालने का काम दिया गया था। फरवरी 2020 में शुरू हुआ काम 30 जून तक समाप्त होना था लेकिन लाकडाउन के चलते पाइपलाइन डालने का काम फरवरी 2021 में पूरा हो सका। इसके बाद पैसों के अभाव में काम रुक गया जिसकी वजह से सड़क नहीं बन सकी। अमृत योजना के तहत जल निगम को पैसा मिला तो गड्ढे भरने का काम शुरू कराया गया। जल निगम के अधिकारियों ने 10 अगस्त तक सड़क के गड्ढे भरने और 15 सितंबर तक सीआइएसएफ रोड का निर्माण करने की बात कही है लेकिन पिछले 15 दिन में एसटीपी से लेकर पेट्रोल पंप तिराहे तक की सड़क के गड्ढे को ही भरा जा सका है।

वही, एसटीपी से लेकर एनएच नौ तक कई जगह मैनहोल बनाए गए हैं। ये मैनहोल सड़क से करीब एक फुट ऊपर तक हैं। सड़क समतल करने करने के बाद वाहन भी चल रहे हैं लेकिन ये मैनहोल हादसे का कारण बन सकते हैं। दुपहिया वाहन सवार मैनहोल से टकराकर गिर सकते हैं। हादसे में राहगीर की जान भी जा सकती है। सीआइएसएफ रोड पर कई स्थान पर अंधेरा भी रहता है।

--------

बयान

जहां-जहां पर मैनहोल हैं, उस स्थान पर सड़क की सतह को मैनहोल के लेवल में लाने के लिए निर्देश दिए गए हैं, जिससे हादसा न हो। सड़क के गड्ढों को भरने का काम तेजी से चल रहा है। - प्रवीण यादव, अधिशासी अभियंता, जल निगम

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.