मृत महिला को जिदा दिखाकर लिया एक करोड़ लोन

मृत महिला को जिदा दिखाकर लिया एक करोड़ लोन

जागरण संवाददाता गाजियाबाद कविनगर थानाक्षेत्र में मृत महिला को जिदा दिखा एक करोड़ का लोन

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 09:29 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : कविनगर थानाक्षेत्र में मृत महिला को जिदा दिखा एक करोड़ का लोन लेकर धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। मामले में एसएसपी के आदेश ने तीन आरोपितों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की गई है। सीओ द्वितीय अवनीश कुमार ने बताया कि मामले में फरीदाबाद की रहने वाली आरोपित एकता चिटकारा, नीरज चिटकारा और दिल्ली के रहने वाले सुरेंद्र भंडारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

-----------------

ऐसे दिया धोखाधड़ी को अंजाम

22 फरवरी 2018 को टाटा कैपिटल हाउसिग फाइनेंस लिमिटेड की नई दिल्ली शाखा में एकता चिटकारा व नीरज चिटकारा ने लोन के लिए आवेदन किया। उन्होंने बताया कि वह धनवती नामक महिला से शास्त्रीनगर में डी-ब्लाक स्थित प्लाट को खरीद रहे हैं। लोन के लिए आवेदन करने से कई साल पूर्व धनवती की मौत हो चुकी थी। आरोपितों ने मृत धनवती की जगह किसी अन्य फर्जी महिला को धनवती के रूप में पेश किया और फर्जी दस्तावेज के आधार पर पहले रजिस्ट्री कराई। इसके बाद उक्त संपत्ति के दस्तावेज बंधक रखकर टाटा कैपिटल हाउसिग फाइनेंस लिमिटेड ने एक करोड़ की रकम फर्जी धनवती के खाते में ट्रांसफर कर दी। इसके बाद आरोपितों ने फर्जी धनवती के खाते से रकम अपने खातों में ट्रांसफर करा ली और फरार हो गए।

------------

इस तरह पकड़ में आया मामला

टाटा कैपिटल हाउसिग फाइनेंस लिमिटेड के प्रतिनिधि मनोज शर्मा ने बताया कि लोन जारी होने के बाद किस्त जमा नहीं की गई। इस पर पहले एकता चिटकारा व नीरज चिटकारा को डिफाल्टर घोषित कर मामले की जांच की गई। इस दौरान सामने आया कि आरोपितों ने सुरेंद्र भंडारी के साथ मिलकर जालसाजी को अंजाम दिया। रजिस्ट्री से लेकर बैंक खाता और अन्य सभी दस्तावेज फर्जी दिए गए थे। इसके बाद मामले में एसएसपी से शिकायत की गई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.