डेढ़ माह बाद किसानों का धरना खत्म

डेढ़ माह बाद किसानों का धरना खत्म

फोटो नं.- 24मोदी-4 -दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे में अधिगृहीत जमीन का एकसमान मुआवजा मांग रहे है

Publish Date:Tue, 24 Nov 2020 05:43 PM (IST) Author: Jagran

फोटो नं.- 24मोदी-4

-दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे में अधिगृहीत जमीन का एकसमान मुआवजा मांग रहे हैं किसान

-विधायक डॉ. मंजू शिवाच एवं एसडीएम ने किसानों को कराया पूरी स्थिति से अवगत

-सोमवार को गाजियाबाद कलक्ट्रेट में हुई थी बैठक, मंडलायुक्त अनीता सी. मेश्राम ने दिया था आश्वासन जागरण संवाददाता, मोदीनगर : दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे से प्रभावित किसानों का तहसील परिसर में चल रहा धरना मंगलवार को खत्म हो गया। विधायक डॉ. मंजू शिवाच, एसडीएम आदित्य प्रजापति ने किसानों के बीच पहुंचकर तमाम बिदुओं पर चर्चा करते हुए किसानों को धरना खत्म करने के लिए राजी किया। हालांकि, किसानों ने चेताया कि यदि किसानों के साथ फिर धोखा हुआ तो वे आगे दोगुनी ताकत के साथ आंदोलन करेंगे।

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे में अधिगृहीत जमीन का किसान एकसमान मुआवजा मांग रहे हैं। किसान पिछले डेढ़ माह से तहसील में धरना दे रहे थे। मुख्यमंत्री, सांसद, विधायक समेत तमाम स्तर पर किसानों की वार्ता हुई, लेकिन कोई हल नहीं निकला। इसी के चलते किसानों ने सोमवार को किसानों से तालाबंदी करने की घोषणा की थी। वकीलों व बैनामा लेखकों ने भी किसानों को समर्थन दिया था। किसानों की चेतावनी को देखते हुए मंडलायुक्त अनीता सी. मेश्राम ने वार्ता के लिए किसानों को गाजियाबाद कलक्ट्रेट में बुलाया और उनसे मुआवजे से जुड़े हर बिदु पर बात की। कई बिदुओं पर किसान और प्रशासन में सहमति बनी। मंडलायुक्त ने किसानों से धरने को खत्म करने की अपील करते हुए मुआवजा देने में हुई खामियों की समीक्षा भी की। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि हर स्तर पर किसानों की मदद की जाएगी। जहां-जहां भी गड़बड़ी हुई है, उसे दुरुस्त करते हुए समस्या का जल्द हल कराया जाएगा।

मंगलवार को मंडलायुक्त द्वारा भेजे गए अधिवक्ता के साथ एसडीएम ने किसानों की दोबारा से वार्ता कराई और तमाम बिदुओं पर बात कर रिपोर्ट तैयार की गई। विधायक डॉ. मंजू शिवाच एवं एसडीएम आदित्य प्रजापति शाम में किसानों के बीच पहुंचे और कहा कि उच्चस्तर पर लगातार किसानों की समस्या पर काम चल रहा है। किसानों की मांग जायज है और निश्चित ही इसका हल होगा। इसलिए वे धरने को खत्म कर दें। विधायक ने कहा कि अपने क्षेत्र के किसानों की समस्या को हल कराने के लिए मुख्यमंत्री से लेकर हर स्तर तक वे पहले भी गई हैं और आगे भी पूरा साथ देंगी। उन्होंने कहा कि बढ़ती सर्दी में रात-दिन धरने पर बैठे किसानों की उनको चिता हैं। किसान भाइयों के स्वास्थ्य पर मौसम का गलत असर पड़ सकता है। इसके बाद किसानों ने सर्वसम्म्मति से धरने को खत्म करने की घोषणा की।

आंदोलन की अगुवाई कर रहे पूर्व जिला पंचायत सदस्य डॉ. बबली गुर्जर ने विधायक, एसडीएम के प्रयास की सराहना करते हुए उनका आभार जताया। साथ ही उन्होंने चेताया कि किसानों को पूरा विश्वास है कि उनकी समस्या का हल वे कराएंगे। लेकिन, अगर किसानों के साथ पिछली बार की तरह धोखा किया गया तो किसान दोगुनी ताकत के साथ आंदोलन को धार देगा। अब तक के आंदोलन में उन्होंने कानून व्यवस्था का पालन किया है, लेकिन आगे नियम-कानून तोड़कर लड़ाई लड़ी जाएगी।

इस मौके पर सतीश राठी, दलबीर सिंह, हाजी अलताफ, मुकेश, राहुल गुर्जर, महाबीर सिंह आदि मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.