निजीकरण के खिलाफ विद्युत अभियंताओं ने निकला मशाल जुलूस

निजीकरण के खिलाफ विद्युत अभियंताओं ने निकला मशाल जुलूस
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 06:15 AM (IST) Author: Jagran

फीरोजाबाद, जासं: विद्युत विभाग के निजीकरण के विरोध में सोमवार को विभागीय अधिकारी, कर्मचारियों ने लेबर कॉलोनी से मशाल जुलूस निकाल कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने चेतावनी दी कि सरकार ने जल्द निजीकरण का आदेश वापस न लिया तो जेल भरो आंदोलन करेंगे।

विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के जिला संयोजक विश्वेंद्र प्रताप सिंह चौहान के नेतृत्व में शाम पांच बजे एक्सईएन, एसडीओ व अवर अभियंताओं द्वारा लेबर कॉलोनी स्थित विद्युत कार्यालय से मशाल जुलूस निकाला गया। इस दौरान कर्मचारी हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां थामे सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए चल रहे थे। मशाल जुलूस गांधी पार्क पहुंचकर समाप्त हुआ। जिला संयोजक ने कहा कि प्रदेश सरकार विद्युत विभाग को निजी हाथों में सौंप कर बिजली विभाग के कर्मचारियों के साथ अन्याय कर रही है। सह संयोजक उदयवीर सिंह ने कहा कि विद्युत विभाग का निजीकरण कर सरकार गरीब, किसान व मजदूरों के साथ अन्याय कर रही है। निजीकरण के बाद उपभोक्ताओं पर बिजली बिल का बोझ बढ़ेगा। राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन के अध्यक्ष अहमद हुसैन का कहना है कि निजीकरण के विरोध में मंगलवार से दोपहर में दो से पांच बजे तक प्रतिदिन कार्य बहिष्कार किया जाएगा। जुलूस में एक्सईएन अरविंद पांडेय, आरपी वर्मा, एसडीओ रणवीर सिंह, निजामुद्दीन, उदयवीर सिंह, जेई अहमद हुसैन, अनुज भारद्वाज, रामयज्ञ, जितेंद्र कुमार, अमित कुमार, मनीष कुमार आदि शामिल रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.