अतिक्रमण पर चलेगा बुलडोजर

फीरोजाबाद, जासं, शहर के मुख्य चौराहे हों या भीड़ भरे बाजार। जाम व अतिक्रमण के चलते दो कदम चलना मुश्किल हो गया है। दिनोंदिन गंभीर होती जाम की समस्या पर नगर निगम प्रशासन ने अतिक्रमण को चिह्नित कर लाल निशान लगवाना शुरू कर दिया है, जिससे दुकानदारों में खलबली मची हुई है।

सुहागनगरी में सालों से जाम की गंभीर समस्या बनी हुई है। शहर में अधिकांश दुकानों के आगे नाले के ऊपर स्थाई निर्माण कर अतिक्रमण कर लिया है। वहीं फुटपाथों पर दुकानदार, ठेल व फड़ लगाने वालों ने कब्जा कर लिया है। सुभाष तिराहा, आगरा गेट, गांधीपार्क, स्टेशन रोड, सेंट्रल चौराहा, गंज चौराहा, सदर बाजार, घंटाघर, नालबंद चौराहा से रसूलपुर तक अतिक्रमण के हालात बने हुए हैं, जिससे राहगीरों का पैदल गुजरना भी मुश्किल है। नगर निगम प्रशासन ने जाम की समस्या के निदान को रणनीति तय कर ली है। निर्माण विभाग की टीम द्वारा नाले के आगे स्थाई अतिक्रमण को चिह्नित कर लाल निशान लगाना शुरू कर दिया है। नगर निगम ने प्रथम चरण में जैन मंदिर से गांधीपार्क होते हुए सेंट्रल चौराहे तक अतिक्रमण का चिह्नित कर लाल निशान लगाए दिए हैं। सभी दुकानदारों को तीन दिन का समय दिया गया है। नगर निगम प्रशासन द्वारा जल्द ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की जाएगी।

----

आगरा गेट पर अवैध टैक्सी स्टैंड बना मुसीबत

बस स्टैंड से लेकर गांधी पार्क तक अवैध टैक्सी स्टैंड बना हुआ है। नगर निगम के निकट सुबह से देर रात तक चार पहिया वाहन फुटपाथ को घेर कर खड़े हो जाते हैं, जिससे पैदल निकलने वालों के लिए भी जगह नहीं बचती है। इसको लेकर कई बार विवाद व मारपीट की घटनाएं भी हो चुकी हैं।

----

बैंक व क्लीनिक भी बढ़ा रहे जाम की समस्या

सुभाष तिराहा, आगरा गेट, स्टेशन रोड, बाग छिंगामल, गंज चौराहा सहित भीड़ भरे स्थलों पर बैंक शाखाएं व चिकित्सकों के क्लीनिक संचालित हो रहे हैं। बैंक व चिकित्सकों के बाहर दोपहिया व चार पहिया वाहन दिनभर फुटपाथ को घेरे खड़े रहते हैं, जिससे जाम की समस्या गंभीर हो जाती है।

----

शहर को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए अवैध अतिक्रमण को ध्वस्त कराने की योजना बना ली है। निर्माण विभाग की टीम द्वारा जैन मंदिर से रसूलुपर थाने तक अतिक्रमण को चिह्नित कर लाल निशान लगाने के निर्देश दिए हैं। सभी दुकानदारों को तीन दिन का समय दिया जाएगा। दुकानदार स्वयं अतिक्रमण नहीं हटाते हैं तो जेसीबी से ध्वस्त करा दिया जाएगा। -विजय कुमार, नगर आयुक्त

1952 से 2020 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.