पूर्वा एक्सप्रेस के यात्रियों को टूंडला में दिया भोजन-पानी

टूंडला (फीरोजाबाद), संवाद सहयोगी। शुक्रवार रात करीब एक बजे कानपुर के रूमा स्टेशन पर कपलिग टूटने से दुर्घटनाग्रस्त हुई पूर्वा एक्सप्रेस के यात्रियों को रेल प्रशासन ने टूंडला में भोजन, पानी उपलब्ध कराया। यहीं से उन्हें उनकी मंजिल के लिए दो स्पेशल ट्रेनों से भेजा गया।

कई घंटे के प्रयास के बाद दुर्घटनाग्रस्त ट्रेन को पटरी पर लाकर रूमा स्टेशन से रवाना किया गया। उक्त ट्रेन सुबह करीब 11 बजे टूंडला स्टेशन पर पहुंची। ट्रेन आने से पहले ही रेल प्रशासन ने यात्रियों के लिए खाना, बिस्कुट, चिप्स, चाय, पानी आदि की व्यवस्था कर दी थी। ट्रेन आने पर भूखे-प्यासे यात्रियों को इनका वितरण किया गया। इस दौरान मंडल यातायात प्रबंधक समर्थ गुप्ता, एटीएम सुगंधा सिंह, सीएमआइ भैंरो सिंह मीणा, सीआइटी डीके दीक्षित, सीआइटी लाइन जयकिशन, स्टेशन अधीक्षक अमर सिंह आदि मौजूद रहे। एक दर्जन से अधिक ट्रेनें रद, परेशान हुए लोग:

पूर्वा एक्सप्रेस के दुर्घटनाग्रस्त होने से अन्य ट्रेनों का संचालन प्रभावित हुआ। शनिवार को डाउन लाइन की इलाहाबाद-जयपुर एक्सप्रेस, गया-नई दिल्ली महाबोधी एक्सप्रेस, इलाहाबाद-देहरादून संगम एक्सप्रेस, रीवा एक्सप्रेस, गरीबरथ एक्सप्रेस, राजेंद्र नगर-पटना संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस, लिच्छवी एक्सप्रेस, हमसफर एक्सप्रेस आदि को रद कर दिया गया। महानंदा एक्सप्रेस रविवार को भी रद रहेगी। वहीं कई ट्रेनों को डायवर्ट कर निकाला गया। इस कारण लोगों को परेशानी हुई। - मौके पर भेजा गया दुर्घटना राहत यान:

घटना के तत्काल बाद ट्रेक को सुचारू करने के लिए अधिकारियों के निर्देश पर दुर्घटना राहतयान (एआरटी) व (एआरएमई) को टूंडला से भेजा गया। ट्रेन को घटना के समय टूंडला हेडक्वार्टर के गार्ड व ड्राइवर चला रहे थे। चारों तरफ मची चीखपुकार:

हादसे के कई घंटे बाद भी यात्रियों के चेहरे का रंग उड़ा हुआ था। ट्रेन में इलाहाबाद से दिल्ली तक की यात्रा कर रहीं अनीता वाष्र्णेय ने बताया कि वह स्लीपर क्लास में पति के साथ थीं। आधी रात को जोर की आवाज हुई और वह सीट से नीचे गिर गईं। उसके बाद चीख-पुकार मच गई। कमलेश तिवारी ने बताया कि कब क्या हो गया, पता ही नहीं चला। आंख खुली तो हर ओर चीख-पुकार मची थी। कोच में अंधेरा हो गया था। हादसे के समय अधिकांश यात्री सो रहे थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.