फतेहपुर में धान खरीद केंद्रों पर सॉफ्टवेयर की काट खोज बिचौलिए कर रहे कमाई

फतेहपुर में धान खरीद केंद्रों पर सॉफ्टवेयर की काट खोज बिचौलिए कर रहे कमाई

जागरण संवाददाता फतेहपुर धान खरीद में बिचौलिया हावी है और प्रशासन इन्हें रोक नहीं पा र

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 11:15 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, फतेहपुर: धान खरीद में बिचौलिया हावी है और प्रशासन इन्हें रोक नहीं पा रहा है। किसान केंद्र में धान भले ही नहीं बेंच पा रहा है, बिचौलिये किसान के नाम का ही उपयोग करके उसके नाम से एक नहीं बल्कि अनेक केंद्रों में धान बेंच लेते हैं। इस तरह बिचौलिया और केंद्र प्रभारी मिलकर खेल कर रहे हैं। कमजोरी यह है कि साफ्टवेयर इन कमियों को नहीं पकड़ पाता, जिससे बिचौलिये व केंद्र प्रभारी कार्रवाई से बच जाते हैं।

दरअसल धान खरीद के लिए सरकार ने जो साफ्टवेयर बनाया है। उसमें अच्छाई व खामी दोनों हैं। अच्छाई यह है अगर किसान किसी धान खरीद में एक बार रजिस्ट्रेशन कराकर धान की बिक्री कर लेता है और दूसरी बार रजिस्ट्रेशन कराता है तो साफ्टवेयर यह बता देता है कि किसान द्वारा पहले ही धान बेंचा जा चुका है। ऐसे किसानों को साफ्टवेयर अलग कर देता है, जिससे वह उस केंद्र में दोबारा धान नहीं बेंच पाते है। कमी यह है कि अगर किसी पहले केंद्र में रजिस्ट्रेशन के आधार पर बिक्री करने के बाद दूसरे केंद्र में पुन: रजिस्ट्रेशन कराता है तो उसका रजिस्ट्रेशन हो जाता है और वह दूसरे, तीसरे और चौथे केंद्र में रजिस्ट्रेशन कराकर धान बेंचता रहा है। साफ्टवेयर की इस कमी का फायदा बिचौलिया उठा रहे हैं। वह एक किसान की खतौनी का तीन से चार केंद्रों में रजिस्ट्रेशन कराते हैं और बिक्री करते हैं। इन्हें प्रशासन पकड़ नहीं पाता है।

सूची का मिलान कराने की तैयारी: एडीएम

एडीएम पप्पू गुप्ता ने बताया कि धान खरीद में किसान यदि एक ही केंद्र में दोबारा रजिस्ट्रेशन कराता है तो पकड़ जाता है, लेकिन वहीं किसान दूसरी व तीसरे केंद्र में रजिस्ट्रेशन कराता है तो साफ्टवेयर नहीं पकड़ पाता। अब हम हर केंद्र के रजिस्टर्ड किसानों की सूची से अन्य केंद्र के किसानों की सूची से मिलान करेंगे। एक से अधिक रजिस्ट्रेशन वाले किसानों को सूचीबद्ध किया जाएगा। किसान हितों की अनदेखी कर रही सरकार : नरेश उत्तम

संवाद सूत्र, अमौली (फतेहपुर) : समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने सोमवार को यहां कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार किसान हितों की अनदेखी कर रही हैं। भाजपा समाज को बांटने में जुटी है, जबकि रोजगार नहीं मिल रहे हैं। सपा कार्यकर्ता गांव-गांव जाकर सरकारों की जनविरोधी नीतियों को लोगों को बताएं।

सपा प्रदेश अध्यक्ष ने झांसी-प्रयागराज खंड स्नातक चुनाव में पार्टी के प्रत्याशी के पक्ष में समर्थन जुटाने के लिए अमौली, जहानाबाद में कई बैठकें भी कीं। अमौली में कहा कि भाजपा सरकार ने किसान व नौजवान के साथ धोखा किया है। भाजपा की नीति समाज को बांटने की है। अब किसान व नौजवान धोखे में आने वाला नहीं है। धान की खेती करने वाले किसान परेशान हैं। खरीद केंद्रों से उन्हें लौटाया जा रहा है, जबकि बाजार में धान एक हजार से 11 सौ रुपये प्रति क्विटल में बिक रहा है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से संघर्ष करने की अपील की। कहा कि गांव-गांव भाजपा सरकार की किसान, नौजवान विरोधी नीतियों को उजागर करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.