सही-गलत जांचने को 4300 घरों में खटकेगी कुंडी

जागरण संवाददाता फतेहपुर मतदाता सूची में नाम जोड़ने व घटाने का अभियान मंगलवार को पूरा ह

JagranTue, 30 Nov 2021 10:56 PM (IST)
सही-गलत जांचने को 4300 घरों में खटकेगी कुंडी

जागरण संवाददाता, फतेहपुर: मतदाता सूची में नाम जोड़ने व घटाने का अभियान मंगलवार को पूरा हो गया। 30 दिन तक चले विशेष पुनरीक्षण अभियान का कुल 44076 लोगों ने लाभ उठाया है। मंगलवार को डीएम अपूर्वा दुबे ने पुनरीक्षण अभियान के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने मतदाता सूची में फर्जी वोटर को जगह न मिले इसके लिए शिकंजा कसा। निर्णय लिया कि कुल आवेदनों में से दस प्रतिशत की जांच घर-घर जाकर की जाएगी।

बैठक में मौजूद रहे सहायक रिटर्निंग अधिकारी/सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों से कहा कि आपस मे समन्वय बनाकर टीम भावना के साथ कार्य करें। वह अपने स्तर पर भी बैठकें करें उसका कार्यवृत्त उन्हें भेजें। अफसरों को निर्देश दिया कि बूथों का भौतिक सत्यापन शत -प्रतिशत कराएं। जो भी आनलाइन आवेदन मिले हैं, उनकी जांच जरूर कराएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि बीएलओ के द्वारा प्राप्त फार्म का गहराई से अध्ययन करेंगे और छोटी-बड़ी कमियों को बीएलओ दूर करें और आवश्यकतानुसार कंप्यूटर आपरेटर लगाकर सभी फार्म की फीडिग कराएंगे। मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार फार्म 6,7 एवं 8 एवं 18 से 19 वर्ष की उम्र के मतदाताओं के जो फार्म प्राप्त हुए हैं, उन्हें बीएलओ, सुपरवाइजरों, सहायक रिटर्निंग आफिसर प्राप्त फार्मों को अपने-अपने बूथवार सही प्रकार से जांच कराएं और फीड कराएं । बैठक में एडीएम/उप जिला निर्वाचन अधिकारी ,समस्त उप जिलाधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, समस्त खंड शिक्षा अधिकारी, सहायक निर्वाचन अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

ईवीएम पूरी तरह से निष्पक्ष, चुनाव कार्यालय में हुआ प्रदर्शन

जागरण संवाददाता, फतेहपुर:विधान सभा चुनाव में प्रयोग होने वाली ईवीएम मशीनें व वीवीपैट पूरी तरह से निष्पक्ष हैं। इसका प्रदर्शन मंगलवार को चुनाव कार्यालय में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के सामने किया गया। एडीएम विनय पाठक के निर्देश पर खागा, बिदकी और सदर तहसील में भी एक-एक ईवीएम मशीनें भेजी गयीं। यह मशीनें मतदाताओं को देखने के लिए तहसीलों में मौजूद रहेंगी कोई भी मतदाता यहां जाकर देख सकता है।

ईवीएम मशीनों का डिमांस्ट्रेशन जिला निर्वाचन कार्यालय में हुआ। इस मौके पर भाजपा, बसपा, कांग्रेस, अपना दल जैसे अनेक दलों के राजनीतिक दलों के प्रतिनिध मौजूद रहे। डिमांस्ट्रेशन में लोगों को पार्टीवार वोट डालकर दिखाया गया। वोट जिसके पक्ष में डाला गया परिणाम भी उसी के पक्ष में निकला। इससे सभी प्रतिनिधि प्रक्रिया को देखने और समझने में लगे रहे। दलों ने यह भी नोट किया गया कि जिले को किस कंपनी की और किस सिरीज की मशीनें दी गई है। भाजपा के राम प्रताप सिंह गौतम ने इंजीनियरों से अनेक सवाल किए और उनके उत्तर लिए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.