फरार बावरिया गैंग, दुकानदार को पकड़ने टीम औरैया-बदायूं रवाना

जागरण संवाददाता फतेहपुर अंतरराज्यीय बावरिया गिरोह का सरगना हत्थे चढ़ने के बाद पुलिस

JagranFri, 30 Jul 2021 06:33 PM (IST)
फरार बावरिया गैंग, दुकानदार को पकड़ने टीम औरैया-बदायूं रवाना

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : अंतरराज्यीय बावरिया गिरोह का सरगना हत्थे चढ़ने के बाद पुलिस अब फरार साथियों की तलाश में फिर औरैया और बदायूं रवाना हो गई है। पुलिस को चोरी के जेवर खरीदने वाले दुकानदार की भी तलाश है, ताकि शत प्रतिशत जेवरात की रिकवरी हो सके।

बता दें कि 21 जुलाई को जहानाबाद कस्बा स्थित मुरली ज्वैलर्स में नकब लगाकर 20 लाख के जेवर-नकदी उठा ले गए थे। पुलिस ने बावरिया गिरोह के सरगना बृजलाल उर्फ वैज्ञानिक निवासी धनपुरा थाना कादरचोक जिला बदायूं और उसके साथी घनश्याम को बिदकी कोतवाली के नगुवापुर मोड़ से गिरफ्तार कर चांदी के करीब एक लाख रुपये कीमत के जेवर व असलहे समेत गिरफ्तार कर लिया था। जेल जाने के पूर्व पुलिस ने घटना में शामिल इनके फरार साथियों प्रभूदयाल, आनंद, सीताराम निवासी बनारसी दास, पछहियां मुहल्ला जिला औरैया व रामनरेश निवासी धनपुरा थाना कादरचोक जिला बदायूं के नाम, पता व मोबाइल फोन नंबर पूछ लिए थे। जेल भेजने के बाद उच्चाधिकारियों के निर्देश पर स्वाट व सर्विलांस की टीम अब औरैया के पछहियां मुहल्ले में उस दुकानदार को पकड़ेगी जिसने चोरी के जेवर खरीदे थे, उसी के साथ फरार गैंग के सदस्यों का मोबाइल फोन नंबर का लोकेशन ट्रैस कर बदायूं व औरैया रवाना हो गई है।

जहानाबाद प्रभारी निरीक्षक राकेश पांडेय का कहना था कि पुलिस टीमें बदायूं व औरैया रवाना हो गई हैं शीघ्र ही चोरी के जेवर खरीदने वाले के साथ गिरोह के अन्य सदस्य को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। अमौली चोरी से जुड़ सकते हैं तार

चांदपुर थाने के अमौली कस्बा स्थित सर्राफ नरेश ओमर की दुकान से आठ जनवरी 2021 को करीब 70 लाख जेवरात की चोरी हुई थी। इसमें एसटीएफ प्रयागराज जांच कर रही है। पुलिस महकमा में चर्चा रही कि जेल गए बावरिया गिरोह के फरार सदस्यों के तार इस चोरी से जुड़े हो सकते हैं फिलहाल गिरोह के फरार छह सदस्यों की तलाश की जा रही है। कहा कि गिरोह की निशानदेही पर जहानाबाद कस्बे में कब्रिस्तान के पास स्थित तालाब की छानबीन में कोई सामग्री बरामद नहीं हुई है। सर्राफ नहीं दिखे संतुष्ट

मुरली ज्वैलर्स के मालिक मनोज कश्यप ने बताया कि पुलिस ने जिस चांदी की बरामदगी दिखाई है वह उसके है ही नहीं। चोरी तीन की नहीं बल्कि 20 लाख जेवरात की हुई है। कहा, चोर तिजोरी नहीं काट सके हैं लेकिन यदि पुलिस औरैया में छापा मारकर उस दुकानदार को गिरफ्तार करे तो उसका जेवर मिल जाएगा। उधर, अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार का कहना था कि बावरिया गिरोह सरगना बृजलाल व सराफ मनोज कश्यप से आमने सामने बात कराई गई थी। इसमें सरगना ने साथियों संग इसकी दुकान में चोरी करना स्वीकार किया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.