कोरोना से शिक्षिका की मौत, 101 नए केस और मिले

कोरोना से शिक्षिका की मौत, 101 नए केस और मिले

जागरण टीम फतेहपुर कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है अभी तक जिले में गंभीर रोग

JagranMon, 19 Apr 2021 08:42 PM (IST)

जागरण टीम फतेहपुर : कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है, अभी तक जिले में गंभीर रोगी नहीं दिख रहे थे, लेकिन अब गंभीर रोगियों की संख्या भी बढ़ रही है। सोमवार को देवमई विकास खंड के ईशापुर विद्यालय की शिक्षिका की मौत कानपुर के एलएलआर हॉस्पिटल में हो गई। उधर, शिक्षिका के पति भी गंभीर हैं और कानपुर में उपचार ले रहे हैं। इधर बीते 24 घंटे में 101 नए और मरीज मिले हैं, जिससे कोरोना की रफ्तार को समझा जा सकता है।

मृतक शिक्षिका के देवर ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव होने से उसकी भाभी की मौत हुई है। उधर, कोरोना प्रभारी डॉ. केके श्रीवास्तव ने बताया कि अभी मौत का रिकार्ड पोर्टल में अपडेट नहीं हुआ है, लेकिन दूसरी लहर में अब तक तीन लोगों की मौत हुई है। इसमें दो के आंकड़े पोर्टल पर दर्ज हैं। यह मौतें जिले में नहीं हुई लेकिन उपचार दौरान बाहर के जनपदों में हुई हैं। गोपालगंज पीएचसी के चिकित्साप्रभारी डॉ. अरुण कुमार द्विवेदी सहित 12 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। प्रभारी चिकित्साधिकारी ने बताया कि गोपालगंज पीएचसी की 20 अप्रैल को सभी स्वास्थ्य सेवाएं बंद रहेगी। उधर जहानाबाद सीएचसी के चिकित्साधीक्षक डॉ. जेपी वर्मा, डॉ. मनीष चौरसिया, डॉ. राजेंद्र कुमार, स्टाफ नर्स आरती को कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। सोमवार को जिले में जो नये मरीज मिले हैं। उनकी कुल संख्या 101 है। अब जिले में सक्रिय केसों की संख्या 589 पहुंच गयी है। जिले में संक्रमण की स्थिति

पिछले 24 घंटे में संक्रमित-101

आज के संक्रमित-101

कुल एक्टिव केस-589

आज के नए केस-101

पिछले 24 घंटे में हुई मौतें-एक

आज हुईं मौतें-एक

कुल वैक्सीनेशन -1.06 लाख

पहला टीका-61000

दूसरा टीका-16000

वैक्सीन की उपलब्धता-15000

ऑक्सीजन की उपलब्धता-230 सिलिंडर

-रेमडेसिविर की आवश्यकता----शून्य

-रेमडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता- 100

-रेमडेसिविर के कालाबाजारी मामले- शून्य

-अस्पताल में आईसीयू बेड- 12

-अस्पताल में ऑक्सीजन बेड- 20

-मरीजों के लिए कुल बेड------150

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.