अब एएलएस एंबुलेंस की सुविधा के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान

जागरण संवाददाता फर्रुखाबाद अभी तक टोल फ्री नंबर मिलाने के बाद एंबुलेंस की सुविधा मिलती थी

JagranFri, 26 Nov 2021 07:16 PM (IST)
अब एएलएस एंबुलेंस की सुविधा के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान

जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : अभी तक टोल फ्री नंबर मिलाने के बाद एंबुलेंस की सुविधा मिलती थी, लेकिन अब ईएमटी के नंबर मिलाने पर एंबुलेंस सेवा का लाभ मिल सकेगा। इस एंबुलेंस से रेफर गंभीर मरीजों को ही ले जाया जाएगा।

मरीजों की सहूलियत के लिए 102 व 108 एंबुलेंस सेवा चलाई जा रही है। अब शासन ने साधारण एंबुलेंस और एडवांस लाइफ सपोर्ट (एएलएस) एंबुलेंस का ठेका अलग-अलग फर्म को दिया है। साधारण एंबुलेंस के लिए 108 व 102 का काल करनी होती है, लेकिन मिनी आईसीयू से लैस एएलएस एंबुलेंस के लिए टोल फ्री नंबर 05222466510, 05226610222 पर काल करनी होगी। तभी एएलएस एंबुलेंस की सुविधा मिल सकेगी। कभी-कभी टोल फ्री नंबर व्यस्त होने के कारण मरीज के तीमारदारों को परेशान होना पड़ता है। इसे देखते हुए लोहिया अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन (ईएमटी) के सीयूजी मोबाइल नंबर 8188064214, 8188064215, 8188064216 की सूची लगाई गई है। ताकि गंभीर मरीजों के तीमारदार उक्त मोबाइल नंबर से एंबुलेंस की सुविधा ले सकें। इस एंबुलेंस से जिला लोहिया अस्पताल में भर्ती मरीजों को सैफई, कानपुर, लखनऊ आदि जगहों पर मेडिकल कालेज में ले जाया जाएगा। जिला प्रभारी आशीष द्विवेदी ने बताया कि जनपद में तीन एएलएस एंबुलेंस का संचालन किया जा रहा है। मिनी आइसीयू जैसी सुविधाएं से एएलएस एंबुलेंस लैस है। उन्होंने बताया कि ईएमटी जितेंद्र कुमार, राजकिशोर, रोहित, विवेक, रतनदीप, प्रगति और खैरुद्दीन हैं। जब कि पायलट में अभिनंदन मिश्रा, रामू यादव, आलोक कुमार, रजनीश कुमार, अभिषेक कुमार, अमन कुमार शामिल हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक 320 मरीज इस सेवा का लाभ ले चुके हैं। गंभीर मरीजों को ही रेफर करने के बाद एएलएस एंबुलेंस से मेडिकल कालेज में भर्ती कराया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.