लाइसेंस निलंबित, सील की गई अल्ट्रासाउंड मशीन

जागरण संवाददाता फर्रुखाबाद एक रेडियोलाजिस्ट के शैक्षिक अभिलेखों के आधार पर प्रदेश के

JagranThu, 16 Sep 2021 10:35 PM (IST)
लाइसेंस निलंबित, सील की गई अल्ट्रासाउंड मशीन

जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : एक रेडियोलाजिस्ट के शैक्षिक अभिलेखों के आधार पर प्रदेश के 28 नर्सिंगहोम में संचालित अल्ट्रासाउंड सेंटर का मामला शासन में पहुंचा। शासन की सख्ती के बाद जिलाधिकारी के निर्देश पर सिटी मजिस्ट्रेट की अगुवाई में गई स्वास्थ्य विभाग की टीम ने नर्सिंग होम में चल रहे अल्ट्रासाउंड केंद्र की मशीन सील कर दी और उसका लाइसेंस निलंबित कर दिया।

जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह के निर्देश पर सिटी मजिस्ट्रेट अशोक कुमार मौर्य, डिप्टी सीएमओ डा. राजीव शाक्य गुरुवार दोपहर फतेहगढ़ के केपी हास्पिटल पहुंचे। सिटी मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में अल्ट्रासाउंड मशीन सील कर दी गई। डिप्टी सीएमओ डा. राजीव शाक्य ने बताया कि प्रदेश के 28 जिलों में चलने वाले अल्ट्रासाउंड सेंटरों पर डा. अधिश पर्सिवल जेम्स क्लिफोर्ड एमबीबीएस, एमडी, (रेडियो) के मेडिकल प्रमाण पत्र लगे थे। एक समय पर अल्ट्रासाउंड करना संभव नहीं है। इस चिकित्सक के अभिलेखों के जरिए परिवर्तन मिशन हास्पिटल एवं अल्ट्रासाउंड सेंटर और फतेहगढ़ के केपी सिंह हास्पिटल में अल्ट्रासाउंड किए जा रहे थे। उन्होंने बताया कि केपी नर्सिंग होम में अल्ट्रासाउंड सेंटर का लाइसेंस भी निलंबित किया गया है। डिप्टी सीएमओ ने बताया कि परिवर्तन हास्पिटल में संचालित अल्ट्रासाउंड मशीन का उपयोग उसके चिकित्सक स्वयं ही करते हैं। इसलिए अभी उसे सील नहीं किया गया है।

सीएमओ को निरीक्षण में 28 कर्मचारी मिले गैरहाजिर : मुख्य चिकित्साधिकारी गुरुवार को अचानक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंच गए। उन्हें 28 स्वास्थ्य कर्मचारी गैरहाजिर मिले। उन्होंने प्रभारी चिकित्साधिकारी को गैरहाजिर कर्मचारियों से स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिए हैं।

गुरुवार दोपहर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. सतीश चंद्रा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। उन्होंने ओपीडी, इमरजेंसी कक्ष आदि का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सीएमओ को डा. ममता अरुण, कर्मचारी सुधाकर, मनोज कुमार, लैब टेक्नीशियन नम्रता आर्य अनुपस्थित मिलीं। पीकू वार्ड की डा. स्मिता शाक्य डा. कुलभूषण, डा. प्रांजुल तिवारी, काउंसलर कुमारी वंदना, कल्पना, वार्ड ब्वाय शिवरतन भी अनुपस्थित मिले। इसके अलावा कर्मचारी विवेक कनौजिया, एएनएम मिथिलेश कुमारी, ज्योति, अनूप कुमार, डेंटल हाइजेनिक सत्येंद्र यादव, ओटी टेक्नीशियन रामरतन, भूपेंद्र, स्टाफ नर्स रवीना पाल, वार्ड आया सुषमा, वार्ड ब्वाय रामजीत, सुमित कुमार, क्लीनर ओमप्रकाश, कौशल, लैब टेक्नीशियन साहिल भी मौके पर नहीं मिले। सीएमओ ने प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. सोमेश अग्निहोत्री के प्रति नाराजगी जताई और अनुपस्थित कर्मचारियों से स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिए। सीएमओ को चिकित्सालय परिसर में कुछ जगहों पर गंदगी मिली है। उन्होंने पर्याप्त सफाई कर्मचारी होने के बावजूद सफाई न होने पर नाराजगी जताई। सीएमओ ने डा. विकास पटेल, डा. मान सिंह राजपूत से मरीजों के बारे में जानकारी ली।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.