पुलिस की मौजूदगी में वितरित की गई डीएपी

संवाद सूत्र संकिसा मेरापुर थाना क्षेत्र में खाद की किल्लत से किसान परेशान हैं। किसानों का

JagranPublish:Sat, 30 Oct 2021 04:40 PM (IST) Updated:Sat, 30 Oct 2021 05:16 PM (IST)
पुलिस की मौजूदगी में वितरित की गई डीएपी
पुलिस की मौजूदगी में वितरित की गई डीएपी

संवाद सूत्र, संकिसा : मेरापुर थाना क्षेत्र में खाद की किल्लत से किसान परेशान हैं। किसानों को समय से खाद नहीं मिल पाने से बोआई पिछड़ रही है। खाद के अभाव में कई समितियों पर ताला लटका रहता है। मेरापुर साधन सहकारी समिति पर शनिवार को पुलिस की मौजूदगी किसानों को खाद वितरित की गई।

डीएपी खाद के अभाव में मेरापुर, अचरा, पखना व संकिसा के किसान परेशान हैं। बाजार और सहकारी समितियों के चक्कर लगाकर किसान थक चुके हैं। कुछ किसानों ने जल्द बोआई के चक्कर मे घरों पर आलू के बीच की कटाई कर ली, जो खाद के अभाव में सड़ने लगी हैं। कुछ किसान खाद विक्रेताओं के यहां मोबाइल फोन से बात कर तसल्ली कर लेते हैं। इस मामले में दुकानदार रैक लगने का आश्वासन देकर किसानों को टरका देते है। सहकारी समिति मेरापुर पर जो खाद पीसीएफ से आती है वो ऊंट के मुंह में जीरा साबित हो रही है। पखना और अचरा स्थिति समितियों पर ताला लटका रहता है। इसको लेकर जिम्मेदार कुछ भी बताने से बच रहे हैं। खाद की किल्लत के चलते अचरा बाजार में नकली डीएपी की बिक्री हो रही है। शनिवार को मेरापुर साधन समिति पर पुलिस की मौजूदगी में डीएपी वितरित की गई। सचिव महेश दीक्षित ने बताया कि मात्र 500 बोरी डीएपी मिली है। स्टाक रहने तक सभी किसानों में दो-दो बोरी वितरित की जा रही हैं। पखना साधन समिति पर अभी तक खाद का वितरण नहीं हुआ। समिति पर ताला लगा है। बताया गया कि सचिव राजकुमार यादव खाद लेने गए हैं।