109 नवनियुक्त शिक्षकों को मिला नियुक्तिपत्र, खिले चेहरे

109 नवनियुक्त शिक्षकों को मिला नियुक्तिपत्र, खिले चेहरे

लाइव कार्यक्रम में पांच को दिया गया नियुक्तिपत्र. जनप्रतिनिधियों ने कहा योगी सरकार ने बंद कर दी नियुक्तियों में मची लूट.

Publish Date:Sat, 05 Dec 2020 11:08 PM (IST) Author: Jagran

अयोध्या: प्रदेश में 69 हजार शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया का दूसरा चरण पूरा हो गया। शनिवार को अवध विश्वविद्यालय के विवेकानंद प्रेक्षागृह में आयोजित समारोह में 109 अभ्यर्थियों को बारी-बारी नियुक्तिपत्र प्रदान किया गया। नियुक्तिपत्र पाकर शिक्षकों के चेहरे खिल गए। खुशी का ठिकाना न रहा। सभी गदगद नजर आए। योगी सरकार की पारदर्शी प्रक्रिया को सहज भाव से शिक्षक श्रेय देना नहीं भूल रहे थे। विकास भवन स्थित एनआइसी कार्यालय में मुख्यमंत्री के नियुक्तिपत्र वितरण कार्यक्रम का लाइव प्रसारण हुआ। मुख्यमंत्री की वर्चुअल मौजूदगी में मांडवी, अर्शिया सुल्ताना,अंकुर सिंह, प्रदीप दुबे व रूना कुमारी को सांसद लल्लू सिंह, महापौर रिषिकेश उपाध्याय, विधायक रामचंद्र यादव, वेदप्रकाश गुप्ता, गोरखनाथ बाबा व शोभा सिंह ने नियुक्ति पत्र दिया। सांसद ने कहा कि योगी सरकार ने पारदर्शी प्रकिया का अनुपालन कर शिक्षकों की बड़ी भर्ती संपन्न कर दी। साथ ही इसमें होने वाली लूट को भी बंद कर दिया। महपौर व विधायकों ने भी योगी सरकार की प्रशंसा के पुल बांधे। कहा, पहले भर्तियों में खूब घोटाले होते रहे, जो अब बंद हो गए। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि कुल 791 शिक्षकों की नियुक्ति हुई। पहले चरण में 682 तथा दूसरे चरण में 109 शिक्षक नियुक्त हुए। बीएसए संतोष कुमार देव पांडेय ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर भाजपा के अन्य नेता व शिक्षक, अभिभावक व कर्मचारी मौजूद रहे। दो का रोका गया नियुक्तिपत्र

अयोध्या: पहले चरण में 21 शिक्षकों तथा इस बार दो का नियुक्तिपत्र रोक दिया गया। इनके अभिलेख व ऑनलाइन आवेदन पत्र में असमानता है। किसी के अभिलेख तो किसी के अंक भिन्न-भिन्न मिले हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.