मास्टर प्लान में गरीब श्रद्धालुओं के लिए हो जगह : सांसद

मास्टर प्लान में गरीब श्रद्धालुओं के लिए हो जगह : सांसद

सांसद ने प्राधिकरण उपाध्यक्ष विशाल सिंह एवं ली एसोसिएट्स साउथ एशिया प्राइवेट लिमिटेड के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की

JagranThu, 04 Mar 2021 11:35 PM (IST)

अयोध्या : अयोध्या विकास प्राधिकरण के सभागार में सांसद लल्लू सिंह ने उपाध्यक्ष विशाल सिंह, सचिव आरपी सिंह एवं ली एसोसिएट्स साउथ एशिया प्राइवेट लिमिटेड के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। इस दौरान सांसद ने कहाकि गरीब श्रद्धालुओं के लिए सुविधायुक्त रैन बसेरे बनाए जाएं। इससे लगी ओपन एरिया में ग्रीन बेल्ट विकसित करते हुए बुनियादी सुविधाएं सुनिश्चित की जाएं। उन्होंने अयोध्या के मास्टर प्लान में कार्गो हवाई अड्डा विकसित करने का भी सुझाव दिया। यह कहते हुए कि कार्गो हवाई सेवा से किसान कहीं अधिक आसानी से अपनी उपज वांछित जगह तक पहुंचा सकेंगे। रामनगरी के प्रस्तावित विकास में होटल के साथ कॉटेज भी बनाए जाएं, जो प्रकृति की निकटता का एहसास कराने वाले हों। सांसद ने सरयू जल संरक्षण की ओर भी ध्यान आकृष्ट कराया। सरयू का जलस्तर न कम होने पाए और इसे भी मास्टर प्लान में शामिल किया जाय।

प्राधिकरण उपाध्यक्ष ने ली संतों की राय

- विकास प्राधिकरण के सभागार में उपाध्यक्ष विशाल सिंह ने अयोध्या की विकास योजना को अंतिम रूप देने के लिए संतों की राय ली। रामवल्लभाकुंज के अधिकारी राजकुमारदास ने कहा कि अयोध्या में होने वाले तीनों परिक्रमा को ध्यान में रखते हुए विकास योजना तैयार की जाय। परिक्रमा मार्गों के दोनों तरफ पौधारोपण करते हुए ग्रीन बेल्ट विकसित की जाय। पंचमुखी महादेव मंदिर के व्यवस्थापक आचार्य मिथिलेशनंदिनीशरण ने कहा, सनातन-शाश्वत अयोध्या नई नहीं हो सकती, इसलिए इसका नाम नव्य अयोध्या देना उचित नहीं है। इसे दिव्य अयोध्या या श्रीरामकालीन अयोध्या का नाम दिया जा सकता है। संत कृपालु रामभूषण ने सरयू पर बैराज को फोरलेन के उस पार बनाने के लिए प्रस्ताव रखा। नाका हनुमानगढ़ी के महंत रामदास ने भी राय दी। प्राधिकरण के सचिव आरपी सिंह ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.