Ayodhya Ram Temple News: सुपर सेफ्टी जोन में तब्दील होगा मंदिर से तीन किलोमीटर का रास्ता

Ayodhya Ram Temple News: सुपर सेफ्टी जोन में तब्दील होगा मंदिर से तीन किलोमीटर का रास्ता

Ayodhya Ram Temple News ड्यूटी को लेकर आज होगी महत्वपूर्ण बैठक एडीजी जोन के साथ एसपीजी ने देखा प्रधानमंत्री कार्यक्रम स्थल।

Publish Date:Mon, 03 Aug 2020 11:47 AM (IST) Author: Divyansh Rastogi

अयोध्या, जेएनएन। Ayodhya Ram Temple News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा से जुड़ी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। पांच अगस्त को पीएम राममंदिर के भूमि पूजन में आ रहे हैं। वह साकेत महाविद्यालय हेलीपैड पर उतरने के बाद हनुमानगढ़ी और उसके बाद राममंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे।

    पीएम के आने से एक दिन पूर्व ही साकेत महाविद्यालय की ओर प्रवेश वर्जित कर दिया जाएगा। सुरक्षाकर्मियों को छोड़ कोई भी व्यक्ति इस मार्ग का उपयोग आवागमन के लिए नहीं कर सकेगा। सुरक्षा के दृष्टिगत जालपा मंदिर चौराहे से नयाघाट तक करीब तीन किलोमीटर का रास्ता सुपरसेफ्टी जोन होगा। इस मार्ग पर सुरक्षा इंतजामों के अतिरिक्त इस मार्ग को कीटाणु-मुक्त भी बनाया जाएगा। माना जा रहा है कि ऐसा कोरोना संक्रमण को देखते हुए किया जाएगा। एडीजी जोन एसएन साबत जिले में कैंप कर रहे हैं। रविवार की सुबह प्रशासनिक व पुलिस अमले के साथ एडीजी ने रामनगरी पहुंच पीएम सुरक्षा के इंतजाम देखे।

तीन अगस्त की शाम से ही अयोध्या-फैजाबाद नगर में सीमा को सील कर दिया जाएगा। यही नहीं रामनगरी की ओर आने वाले संपर्क मार्ग पर भी कड़ा पहरा होगा। बाहरियों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा, जबकि स्थानीय लोगों को भी परिचय पत्र दिखाने के बाद रामनगरी में प्रवेश मिलेगा। पुराने सरयू पुल को भी यातायात के लिए बंद किया जाएगा। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा के अनुसार डीआईजी दीपक कुमार आदि अधिकारियों के साथ रामजन्मभूमि परिसर, हनुमानगढ़ी, राम की पैड़ी आदि क्षेत्रों का भ्रमण किया गया। प्रधानमंत्री के आगमन के तैयारी के संबंध में सुरक्षा से जुड़े अधिकारियों, एसपीजी से वार्ता की गई। डीएम ने कहाकि सभी अधिकारी अपने तैनाती स्थल का गहनता से अवलोकन कर लें। सोमवार को संबंधित अधिकारियों के साथ साथ बैठक कर बिंदुवार जानकारी दी जाएगी।

सरयू नदी पर रहेगा सुरक्षाबलों का पहरा

चार अगस्त से ही सरयू नदी में सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी जाएगी। अयाेध्या के उत्तरी छोर पर स्थित सरयू नदी को पीएसी की फ्लड कंपनी के हवाले कर दिया जाएगा। इसके अलावा वॉच टावरों से नदी में होने वाली प्रत्येक हलचल पर निगाह रखी जाएगी। घाटों पर सीआरपीएफ के अन्य मोर्चो पर पीएसी की तैनाती किए जाने की तैयारी है।

ड्रोन से होगी निगरानी

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की निगरानी ड्रोन कैमरों से की जाएगी । ड्रोन कैमरों से आस-पास के पूरे इलाके को सर्च करने के लिए एक दिन पूर्व रिहर्सल की जाएगी। प्रधानमंत्री के रूट के ईद-गिर्द पड़ने वाले सभी घरों, मंदिरों पर सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी जाएगी। डॉग स्क्वॉयड और बम डिस्पोजल दस्ते की कई टीमें यहां पहुंच चुकीं हैं, जो अयोध्या को सुरक्षा की दृष्टि से खंगालने में जुटी हैं।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.