दिव्य और भव्य बन रही अयोध्या : चिदानंद

दिव्य और भव्य बन रही अयोध्या : चिदानंद

अयोध्या महोत्सव में घुला भगवान राम की भक्ति का रस. बाबा सत्यनारायण मौर्य ने प्रस्तुत की भगवान राम की भव्य आरती.

JagranSat, 27 Feb 2021 11:08 PM (IST)

अयोध्या: अयोध्या महोत्सव में शुक्रवार की शाम भगवान राम के नाम रही। बाबा सत्यनारायण मौर्य ने भगवान राम की भव्य आरती से वातावरण में भक्तिरस घोल दिया। इससे पहले परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती, आरएसएस की राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य इंद्रेश, श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपतराय व राष्ट्रीय कवि संगम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगदीश मित्तल ने दीप प्रज्वलित कर सांस्कृतिक संध्या की शुरुआत की। स्वामी चिदानंद ने कहाकि मौजूदा समय में दिव्य व भव्य अयोध्या का निर्माण हो रहा है। दिव्य नगरी अयोध्या की परिकल्पना की छाप अयोध्या महोत्सव में भी दिख रही है। आरएसएस की कार्यसमिति सदस्य इंद्रेश ने कहा कि हिदू धर्म शांति व सदभाव का प्रतीक है। भगवान राम सबके है और सब राम के है। चंपतराय ने कहाकि भगवान राम, धर्म एवं संस्कृति के आदर्श हैं। उनका जीवन एवं कार्य संसार के सभी लोगों के लिए अनुकरणीय है। भगवान राम ने अपने आदर्श जीवन व व्यवहार से संसार के लोगों को धर्म व मर्यादा का पालन करने का संदेश दिया है। अयोध्या महोत्सव इन्हीं संस्कृति व संस्कारों को संबल प्रदान कर रहा है। महोत्सव न्यास अध्यक्ष हरीश श्रीवास्तव ने कहाकि हमारी पुरातन संस्कृति, सभ्यता, आदर्शों व परंपराओं के संरक्षण और संवर्धन के लिए महोत्सव आयोजित किया गया है। इस अवसर पर आरएसएस के विभाग प्रचारक संजय, महोत्सव के मुख्य संयोजक अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्त, बीकापुर विधायक प्रतिनिधि अमित सिंह चौहान, महानगर प्रचारक अनिल, महोत्सव प्रबंधक रवि तिवारी, उपाध्यक्ष अरुण द्विवेदी, रेणुका रंजन श्रीवास्तव, सचिव नाहिद, कार्यक्रम प्रभारी अनुजेंद्र तिवारी, चंद्रशेखर तिवारी, विवेक पांडेय, बृजमोहन तिवारी, श्रुति श्रीवास्तव, सौरभ मिश्रा, राघवेंद्र श्रीवास्तव, ओमेश अग्रवाल आदि थे।

---------------

आरती से समझाया राम की यात्रा का महत्व

अयोध्या: बाबा सत्यनारायण मौर्य ने भगवान राम की आरती से उनकी यात्रा का महत्व समझाया। करीब ढाई घंटे तक उनकी आरती चलती रही और इस दौरान वे भगवान की यात्रा केअलग-अलग प्रसंग पर लोगों से संवादरत रहे। उन्होंने कहाकि रावण खुद तो दक्षिण में था, लेकिन उसके राक्षस बक्सर, नासिक तक में फैले हुए थे। यह वैसे ही है, जैसे आज पाकिस्तानी आतंकी वारदातों को अंजाम देते हैं। उन्होंने कहाकि विश्वामित्र ने राजा दशरथ से राम और लक्ष्मण को इसलिए मांगा था कि राक्षसों के खिलाफ जनता उठ खड़ी हो। इसलिए उन्होंने दशरथ से सैनिक नहीं, राम और लक्ष्मण को मांगा। चित्र में उन्होंने भारत का नक्शा भी खींचा और राष्ट्रदेव राम का मर्म समझाया। कहा, भगवान राम ने उत्तर और दक्षिण को एक किया। -----------

स्वामी चिदानंद ने दी 51 लाख की धनराशि अयोध्या: निधि समर्पण अभियान के लिए अयोध्या महोत्सव में लगाए गए कैंप में मंदिर के मॉडल का दर्शन व समर्पण करने के लिए रामभक्तों की भीड़ उमड़ रही है। परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती ने रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपतराय को 51 लाख रुपये की धनराशि समर्पित की। 50 मुस्लिम परिवारों ने संघ कार्यकारिणी सदस्य इंद्रेश को निधि समर्पित की। महोत्सव न्यास के अध्यक्ष हरीश श्रीवास्तव ने बताया कि 'राजा राम की अयोध्या' थीम पर महोत्सव आयोजित किया जा रहा है।

-----------

आज आएंगे भोजपुरी सितारे

अयोध्या: अयोध्या महोत्सव के न्यास के अध्यक्ष हरीश श्रीवास्तव ने बताया कि रविवार को भोजपुरी सितारे अयोध्या महोत्सव में शामिल होंगे। शाम पांच बजे से भोजपुरी सिने अवार्ड शो का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान फिल्मी अभिनेता रवि किशन, दिनेश लाल यादव निरहुआ, चिटू पांडेय, आम्रपाली दुबे, अक्षरा सिंह, काजल राघवानी सहित करीब 70 फिल्मी सितारे मौजूद रहेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.