औपचारिकता भर रही गर्भवती की गोद भराई

औपचारिकता भर रही गर्भवती की गोद भराई
Publish Date:Sat, 26 Sep 2020 06:39 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, इटावा : पोषण माह में गर्भवती महिलाओं की गोदभराई औपचारिकता भर हुई। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने सहायिकाओं के साथ गर्भवती महिलाओं के स्वजनों को प्रेरित करके गोदभराई की। जनपद में 16 हजार 260 गर्भवती महिलाओं में 1600 की गोदभराई की गई है। कई केंद्रों पर तो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने स्वयं ही इस खर्च को उठाया है।

कुपोषण मिटाने को गर्भवती महिलाओं को समुचित आहार प्रदान कराने पर शासन जोर दे रहा है। गोदभराई के दौरान पोष्टिक वस्तुएं देने को प्रेरित किया था लेकिन इसके लिए बजट नहीं दिया गया।

जनपद में शहर से लेकर देहात तक 1564 आंगनबाड़ी केंद्र हैं, इन सभी के अंतर्गत तीन से चार माह तक की गर्भवती महिलाओं की गोदभराई की जानी थी। शनिवार को इसके लिए समूचे जनपद में अभियान चलाया गया लेकिन महज 1600 गर्भवती महिलाओं की गोद भराई हुई। ताखा ब्लॉक क्षेत्र के राजापुर केंद्र पर आंगनबाड़ी कार्यकत्री एवं सहायिका वेलफेयर एसोसिएशन जिलाध्यक्ष वंदना अग्निहोत्री ने, इसी ब्लॉक के बम्हनीपुर केंद्र पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कर्पूरी देवी ने सहायिका के साथ रंगोली बनाकर हरी सब्जियां, दालें, फल तथा पोषाहार के पैकेट प्रदान किए। इसी तरह जनपद के अन्य केंद्रों पर यह रश्म अदा की गई। शहर के आंगनबाड़ी केंद्र उझैदी व बजरिया छैराहा पर सभासद शरद बाजपेई ने गर्भवती महिलाओं के घर जाकर गोद भराई की। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मुन्नी देवी, सुनील कुमारी, सहायिका नीरा देवी मौजूद रहीं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक बजट के अभाव में सिर्फ रश्म अदायगी हुई है, अधिकतर गर्भवती महिलाओं की गोदभराई नहीं हो सकी है।

प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी सुरेश कुमार यादव का कहना है कि कोविड-19 महामारी के चलते गोदभराई घर-घर कराई जा रही है। बजट न होने से तीन से चार माह की गर्भवती महिलाओं के स्वजनों को प्रेरित करके उनको समुचित आहार और विभागीय पोषाहार वितरित कराया गया है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य गर्भवती महिलाओं को समुचित पोषाहार उपलब्ध कराने के लिए आम जनमानस को जागरूक करने का है। संवादसूत्र, महेवा के अनुसार : आंगनबाड़ी केंद्रों पर गोद भराई की गई। कोरोना काल को देखते हुए यह कार्यक्रम सादगी से हुआ। ग्राम पंचायत बहादुरपुर के टिलियन केंद्र पर कार्यकर्ता मीना चौहान ने व महेवा केंद्र पर कार्यकर्ता मालती मिश्रा ने नवविवाहिता साक्षी पांडेय की गोद भराई कराई। जिला कार्यक्रम अधिकारी सुरेश सिंह यादव, क्षेत्रीय मुख्य सेविका मनोरमा मिश्रा व कमला पाल ने विभिन्न केंद्रों का निरीक्षण किया। लाभार्थियों को आहार लेने को कहा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.