गुरुनानक देव के प्रकाशोत्सव में उमड़ा आपसी भाईचारा

गुरुनानक देव के प्रकाशोत्सव में उमड़ा आपसी भाईचारा

जागरण संवाददाता इटावा मानवता के उपासक गुरूनानक देव का जन्मदिवस प्रकाशोत्सव के रूप में मना

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 10:04 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, इटावा : मानवता के उपासक गुरूनानक देव का जन्मदिवस प्रकाशोत्सव के रूप में मनाया गया इसमें आपसी भाईचारा जमकर उमड़ा। शहर में श्री गुरूतेग बहादुर साहिब गुरूद्वारा सुबह से देर रात तक गुरूवाणी, वाहे गुरू-वाहे गुरू तथा आतिशबाजी के धमाकों से गूंजता रहा। मनोहारी विद्युत सजावट ने सभी मंत्रमुग्ध किया। सभी वर्ग के लोगों ने प्रेमभाव प्रदर्शित करते हुए एक साथ लंगर छककर आपसी भाईचारा-एकता का संदेश दिया। कोरोना वायरस से बचाने को लेकर लंगर के दौरान विशेष सावधानियां बरती गईं जिससे पूर्व की भांति भीड़ नजर नहीं आई।

श्रीगुरुनानकदेव के जन्मोत्सव को प्रकाशोत्सव पर्व के रूप में मनाया जाता है। इसको धूमधाम और हर्षोल्लास से मनाने की तैयारियां बीते कई दिनों से की जा रही थी। प्रभातफेरी, सबद कीर्तन के साथ अखंड पाठ जारी था, इसका नजारा सोमवार को गुरुद्वारा पर बिजली की भव्य सजावट से नजर आया। सुबह से जारी अखंड पाठ के समापन के पश्चात गुरुद्वारा कमेटी अध्यक्ष सरदार तरनपाल सिंह कालड़ा ने कहा कि गुरु नानकदेवजी ने समानता का रास्ता बनाया था हम सभी उसी मार्ग पर चलकर मानवता और आपसी समरसता को बढ़ावा दे रहे हैं। मुख्य ग्रंथी भाई गुरदीप सिंह ने कहा कि गुरुनानक देवजी का पैगाम जन-जन एवं संपूर्ण विश्व कल्याण के लिए था, हम सभी को गुरुओं के बताए मार्ग पर चलना चाहिए।

प्रकाशोत्सव में सदर विधायक सरिता भदौरिया शामिल हुईं जिनका कमेटी की ओर से शॉल ओढ़ाकर सम्मान किया। उन्होंने कहा कि सिख समाज मानव जगत की सेवा विशेष लंगर चलाकर अपनी पहचान पूरी दुनिया में बना चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से ही करतारपुर कॉरीडोर का रास्ता खुला, उन्होंने पर्व की सभी को बधाई दी। गुरूपर्व पर गुरूद्वारा में मत्था टेकने वालों का सिलसिला काफी देर तक चला, बच्चों सहित महिलाओं के आने से हर्षोल्लास का माहौल रहा। समापन बेला पर कमेटी अध्यक्ष सरदार तरनपाल सिंह कालड़ा, मनदीप सिंह कालड़ा, गुरुबचन सिंह मोगा, चरनजीत सिंह काका, राजा साहनी, कुलवंत सिंह ने सभी श्रद्धालुओं, अखंड पाठ की सेवा करवाने वाले परिवारों, प्रभातफेरी की सेवा करने वाले परिवारों तथा समूह साध संगत का सहयोग करने वालों तथा शबद गायन करने वाले बच्चों को सिरोपा भेंटकर सम्मानित किया। गुरुपर्व की बधाई देते हुए सभी का हार्दिक आभार जताया इससे। समापन बेला पर पुष्पों की वर्षा के साथ आरती करके गुरूनानक देव की जय-जयकार की गई।

झूलेलाल मंदिर पर भी मनाई जयंती

शहर में सिधी कालोनी में स्थित झूलेलाल मंदिर पर भी गुरु नानक जयंती के पर्व पर गुरुपाठ, शबद-कीर्तन करके भंडारा कराया गया। सिधी समाज के लोगों ने श्रद्धाभाव से आयोजन में भाग लिया। मंदिर समिति अध्यक्ष लाली भाई ने सभी से गुरुनानक देव के बताए मार्ग पर चलने की अपील की। फत्तूराम भोजवानी, पप्पन सिधी, जेमू भाई, मनोज तोलानी, हरि बुलानी, रोशनी दासवानी, रेनू बुलानी, सिमरन भोजवानी, राधा बुलानी, गंगाराम आदि ने सक्रिय सहयोग किया, मंदिर पुजारी पं. राजकुमार शर्मा ने सभी का आभार प्रकट किया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.