लुधपुरा में तलैया ट्रांसफार्मर से डाली गईं कटिया

संवाद सहयोगी जसवंतनगर बिजली विभाग वैसे तो उपभोक्तओं की चेकिग के नाम पर नाक में दम किए ह

JagranFri, 17 Sep 2021 04:33 PM (IST)
लुधपुरा में तलैया ट्रांसफार्मर से डाली गईं कटिया

संवाद सहयोगी, जसवंतनगर : बिजली विभाग वैसे तो उपभोक्तओं की चेकिग के नाम पर नाक में दम किए है। मगर लुधपुरा में सिद्धार्थ स्कूल के पास तलैया पर रखे 400 केवी के ट्रांसफार्मर से सरेआम डाली गईं हैं 100 से ज्यादा अवैध कटिया से विभाग आंखें मूदे है। बिजली चोरी हो रही यह तो एक मुद्दा है ही, मगर ये कटिया एक तलैया के ऊपर से गुजारते 200 मीटर दूर काशीराम कॉलोनी में वहां बसे अवैध वाशिदों द्वारा खींचकर ले जाई गई हैं। कटिया के नाम पर पतले-पतले तार खीचे गए हैं। ये तार अक्सर टूटते और गिरते हैं। अब तक तलैया सूखी थी, अब बरसात से लबालब भर जाने से किसी दिन तलैया में करंट दौड़ना तय हो गया है। जिससे बड़ी दुर्घटना कभी भी हो सकती है। इन कटिया की वजह से तलैया ट्रांसफार्मर में अवैध कटिया डालने वाले केबल्स से इस कदर छेड़छाड़ करते हैं कि यह ट्रांसफार्मर रोजाना ही फाल्ट में आकर आग पकड़ता है। यहां तक 11 केवी की लाइन के फ्यूज उड़ने से पूरा रेलमंडी फीडर घंटों के लिए बंद होकर आधे नगर की बिजली घंटों के लिए बंद हो जाती। बिजली अधिकारी इस स्थिति से पूरी तरह वाकिफ होने के बावजूद कटिया खींचकर ले जाने वालों पर कोई कार्रवाई या कांशीराम की इस अवैध कालोनी में ट्रांसफार्मर लगाने की नहीं सोच रहे हैं। इस संबंध में जेई से लेकर एसडीओ तक को सब पता है, मगर कटिया डलवाने में सहयोगी लाइनमेन कोई कार्रवाई में रुचि नहीं दिखा रहे।

-----------

पोल टूटे,36 घंटे बीते नहीं शुरू हो पाई बिजली आपूर्ति

संवादसूत्र ऊसराहार : बीते गुरुवार को सुबह तेज हवा संग बारिश होने से इस क्षेत्र की विद्युत लाइन के करीब 15 से 20 पोल टूट गए थे। इससे करीब एक लाख ग्रामीण आबादी क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति ठप हो गई जो 36 घंटे बीत जाने के बावजूद बहाल नहीं हो सकी थी। बिजली के भरोसे जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया। अब ग्रामीण क्षेत्र में राशन में केरोसिन न दिए जाने से चारों ओर अंधेरा ही कायम रहा।

ताखा क्षेत्र के गांव भगवान पुर, नगला गंगे, बछरोई, भरतपुर कलां, खिलचीपुर, कदमपुर, मुर्चा, समथर, गपचियापुर, अहिवरन पुर, अमथरी, दींघ, नगला पछाय, नगला भिखारीदास सहित दर्जनों गांव सहित तहसील कार्यालय में बिजली आपूर्ति ठप है। विभागीय अधिकारी-कर्मी अभी तक टूटे हुए विद्युत पोलों को दुरस्त नहीं कर सका थे। हालात इसकदर बदहाल हुए कि रोशनी तो गायब है ही साथ लोग अपने मोबाइल तक को चार्ज नहीं कर सके। कस्बा ऊसराहार में विद्युत उपकेन्द्र में गुरुवार की देर शाम को आपूर्ति आ गयी थी लेकिन एक पोल के झुके होने के कारण आम उपभोक्ताओं के लिए बहाल नहीं हो सकी थी। एसडीओ पुष्पेन्द्र कुमार का कहना है कि गांवों की आपूर्ति के लिए विद्युत पोलों को सही कराया जा रहा है लगातार बारिश की वजह से कर्मचारियों को काम करने में परेशानी हो रही है जहां पोल सही हो रहे हैं, उन गांवों की बिजली आपूर्ति प्रारंभ की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.