कर्मचारी व शिक्षक संगठन लामबंद, बनी आंदोलन की रणनीति

जासं इटावा सिचाई विभाग गेस्ट हाउस में कर्मचारी शिक्षक अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच न

JagranFri, 24 Sep 2021 05:48 PM (IST)
कर्मचारी व शिक्षक संगठन लामबंद, बनी आंदोलन की रणनीति

जासं, इटावा : सिचाई विभाग गेस्ट हाउस में कर्मचारी शिक्षक अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच ने प्रदेशीय आह्वान पर होने वाले आंदोलन की रणनीति बनाई।

मंच के जिलाध्यक्ष विनोद यादव ने कहा कि वर्तमान सरकार के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में कर्मचारी व शिक्षकों को लगातार क्षति पहुंचाई जा रही है। प्रदेश के लाखों कर्मचारी व शिक्षक अपने भविष्य को लेकर चितित है। वे पुरानी पेंशन बहाली की मांग कर रहे हैं, क्योंकि नई पेंशन के नाम पर उनके वेतन से करोड़ों रुपये की कटौती करके शेयर बाजार में झोंकी जा रही है और कर्मचारी के सेवानिवृत्ति के समय सुनिश्चित पेंशन देने की जिम्मेदारी लेने को तैयार नही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के कर्मचारी व शिक्षकों का 18 महीने के महंगाई भत्ते का लगभग 10 हजार करोड़ रुपये सरकार डकार गई। नगर प्रतिकर भत्ता, स्वैच्छिक परिवार कल्याण भत्ता, कंप्यूटर भत्ता, परियोजना भत्ता, द्विभाषीय भत्ता समेत 10 से अधिक भत्ते सरकार ने समाप्त करके कर्मचारी व शिक्षकों के पेट पर लात मारी है। 45 हजार वेतन पाने वाले शिक्षामित्र को आज 10 ह•ार पर लाकर भुखमरी की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया गया है। अनुदेशकों का मानदेय 17 ह•ार से घटाकर 7 ह•ार कर दिया गया। प्रदेश के कर्मचारी व शिक्षकों का धैर्य जवाब दे रहा है। बैठक में जिला संयोजक राजेश मिश्रा, जिला मंत्री अरविद शर्मा, जिला कोषाध्यक्ष ब्रजेश यादव, वरिष्ठ उपाध्यक्ष कृपा शंकर यादव, सह संयोजक राजीव यादव, पवन श्रीवास्तव, जिला मीडिया प्रभारी उपेंद्र वर्मा, आडीटर वीरेंद्र कमल, लेखाकार राजेंद्र सिंह यादव, उपाध्यक्ष अरविद धनगर, उपेंद्र त्रिपाठी, उमाशंकर गुप्ता, अंजू वर्मा, उर्वशी दीक्षित, राजदा खातून, ममता वर्मा, शिववीर सिंह आदि उपस्थित रहे। संचालन संरक्षक प्रदीप सक्सेना ने किया। आंदोलन की रूपरेखा

-5 अक्टूबर को जनपद मुख्यालय पर बाइक रैली तत्पश्चात ज्ञापन

-28 अक्टूबर को डीएम कार्यालय पर एकदिवसीय धरना, ज्ञापन

-30 नवंबर को ईको गार्डन लखनऊ में महारैली

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.