पूर्व प्रधान के डेंगू पीड़ित बेटे की दिल्ली में मौत

संवाद सहयोगी सैफई क्षेत्र के नगला सुभान के पूर्व प्रधान महेश दिवाकर के 25 वर्षीय पुत्र अनुज ि

JagranMon, 01 Nov 2021 06:44 PM (IST)
पूर्व प्रधान के डेंगू पीड़ित बेटे की दिल्ली में मौत

संवाद सहयोगी, सैफई : क्षेत्र के नगला सुभान के पूर्व प्रधान महेश दिवाकर के 25 वर्षीय पुत्र अनुज दिवाकर की दिल्ली के एक निजी अस्पताल में डेंगू से मौत हो गई। वह अपने परिवार के साथ दिल्ली की नागलोई में रहते हैं। एक दिन पहले बुखार आ गया तो सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां जांच में डेंगू की पुष्टि हुई थी। पूर्व प्रधान महेश दिवाकर ने बताया कि एक दिन पहले रविवार को दोपहर के समय पुत्र का फोन आया था। उसने डेंगू होने की जानकारी दी थी। इस पर महापौर में रहने वाले तीन अन्य बेटों ने पीड़ित पुत्र अनुज को नजदीकी सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां पर उसकी इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। वह सबसे छोटा पुत्र था, जिसकी शादी तीन वर्ष पहले हुई थी। मृतक की पत्नी रीमा का रो-रोकर बुरा हाल है।

-------

डेंगू के चार नये मरीज मिले, चार मोहल्लों में भेजी गई टीमें

जागरण संवाददाता, इटावा : जिले में डेंगू व वायरल बुखार की बीमारी कम होने का नाम नहीं ले रही है। हालत यह है कि एक शहर के साथ तीन नये मरीज जसवंतनगर में मिलने से स्वास्थ्य विभाग की चिता बढ़ गई है। जिला मलेरिया अधिकारी लक्ष्मी कांत पांडेय ने बताया कि सोमवार को एडी स्वास्थ्य डा. जीके मिश्रा ने समीक्षा की। गंदगी युक्त मोहल्लों में दवा का छिड़काव कराने के निर्देश दे दिये। एडी के निर्देश पर ही नीरज दुबे व आशीष राना की टीमों ने शहर के ही करमगंज, कृष्णा नगर, एकता कालोनी व कोकपुरा में जाकर स्वास्थ्य कैंप लगाया और एंटी लार्वा नाशक दवा का छिड़काव करा दिया।

करमगंज में 32, कृष्णा नगर में 45 तथा कोकपुरा से 25 मरीजों की स्लाइड बना ली। टीमों ने चारों मोहल्लों से 28 कूलरों से लार्वा भी नष्ट करा दिया। टीम ने अपनी आख्या एडी स्वास्थ्य को सौंप दी। नोडल अधिकारी डा. महेश चंद्रा भी साथ रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.