वैज्ञानिक ²ष्टिकोण से पढ़ाई को आगे बढ़ाएं बच्चे

जागरण संवाददाता इटावा इटावा महोत्सव में विज्ञान मेले का आयोजन मंगलवार को किया गया। प्रदर्श

JagranTue, 07 Dec 2021 06:33 PM (IST)
वैज्ञानिक ²ष्टिकोण से पढ़ाई को आगे बढ़ाएं बच्चे

जागरण संवाददाता, इटावा : इटावा महोत्सव में विज्ञान मेले का आयोजन मंगलवार को किया गया। प्रदर्शनी पंडाल में जिले भर के 110 विद्यालयों के 1700 से अधिक बच्चों ने चलित व स्थिर माडल प्रस्तुत करके अपनी वैज्ञानिक क्षमताओं का प्रदर्शन किया। शुभारंभ जिलाधिकारी श्रुति सिंह, डीआईओएस राजू राणा, डिप्टी कलेक्टर रितुप्रिया, बीएसए उमानाथ, इंजीनियरिग कालेज के डीन डा. देवेंद्र कुमार सिंह व संयोजक डा. आनन्द ने दीप प्रज्वलन व सरस्वती प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ किया। उन्होंने प्रदर्शनी पंडाल के मुख्य गेट पर फीता काटकर मेले में आए लोगों का स्वागत किया। साथ ही गुब्बारे व कबूतर उड़ाकर शांति का भी संदेश दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि यह आयोजन अपने आप में ऐतिहासिक आयोजन है। बच्चों ने जिस तरह वैज्ञानिक प्रतिभा का प्रदर्शन किया है वह निश्चित तौर पर सराहनीय है। वर्तमान सामाजिक परिवेश में आवश्यकता के अनुरूप बच्चों ने स्वच्छता, सौर ऊर्जा, पर्यावरण संरक्षण, ग्रीन सिटी जैसे प्रोजेक्ट के माध्यम से अपनी वैज्ञानिक प्रतिभा को प्रदर्शित किया। उन्होंने इसके लिए कार्यक्रम आयोजकों को भी बधाई दी। उन्होंने कहा कि जीवन में टीम वर्क, टाइम मैनेजमेंट, प्रोत्साहन बहुत जरूरी है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे वैज्ञानिक केके वर्मा ने कहा कि बच्चों ने जिस तरह विज्ञान के प्रति अपनी इच्छा को जाहिर करने के लिए माडल प्रस्तुत किए वह सराहनीय हैं। विशेष तौर पर उन्होंने धूएं को साफ करके शुद्ध वायु, जल संरक्षण पर आधारित माडलों की सराहना की। उन्होंने इस आयोजन में आने पर भी खुशी जाहिर की और कहा कि इस प्रकार का आयोजन छोटे-छोटे बच्चों में विज्ञान के प्रति नई रुचि पैदा करेगा। आइआरआइ के वैज्ञानिक डा. अश्वनी कुमार ने कहा कि बच्चों को अपनी दैनिक उपयोगिता में भी विज्ञान को शामिल करना चाहिए। निश्चित रूप से यह आयोजन बच्चों की साइंटिफिक इम्परामेन्ट को बढ़ाने में मददगार साबित होगा। कार्यक्रम संयोजक डा. मुकेश यादव ने सभी अतिथियों का आभार जताया। उन्होंने बच्चों की वैज्ञानिक प्रतिभा की सराहना करते हुए कहा कि निश्चित तौर पर यह कार्यक्रम महोत्सव के सफल कार्यक्रमों में शामिल है। सभी का आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने टीमवर्क के साथ काम करने वाले डा. आनंद की भी सराहना की। संयोजक डा. आनंद ने विज्ञान मेले की संक्षिप्त रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए बताया कि विभिन्न विद्यालय के जो बच्चे इस आयोजन में आए उनके मूल्यांकन के लिए पांच निर्णायक बच्चों के माडल तक जाकर उनका मूल्यांकन करेंगे। मूल्यांकन टीम में डा. मतीन, डा. विष्णु, डा. आशीष त्रिपाठी, डा. अश्वनी कुमार शामिल रहे। जिलाधिकारी ने बच्चों से सवाल भी किए, साथ ही वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए विज्ञान के प्रयोग आदि प्रदर्शनों का भी शुभारंभ किया। कार्यक्रम संयोजक डा. आनंद ने बताया कि दो दिवसीय विज्ञान मेले का समापन बुधवार को किया जाएगा। इसमें कोलाज, क्विज, माडल प्रदर्शित करने वाले बच्चों को सम्मानित किया जाएगा। कार्यक्रम का संचालन प्रधानाचार्य असरा अहमद ने किया। संत विवेकानंद सीनियर सेकेंडरी स्कूल की छात्राओं ने सरस्वती वंदना व स्वागत गीत प्रस्तुत कर अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम संयोजक डीआइओएस राजू राणा, प्रधानाचार्य डा. आनंद, डा. मुकेश यादव ने मुख्य अतिथि का प्रतीक चिन्ह व शाल भेंट कर स्वागत किया। इस्लामिया इंटर कालेज के छात्र अर्सलेन हसन ने कागज के ट्रक का माडल बनाकर शानदार प्रदर्शन किया। अर्सलेन दिव्यांग है और वह अक्सर ऐसे माडल बनाकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करता है। शिक्षक सरवर हुसैन अंसारी, मो. जावेद खान का योगदान रहा। यह अतिथि भी रहे कार्यक्रम में शामिल प्रधानाचार्य प्रमेन्द्र सिंह, शशिप्रभा यादव, सचिन कुमार, सनी, फादर विनोय, डा. धर्मेंद्र शर्मा, सौरभ दुबे, एसएन यादव, गिरजा शुक्ला, राजेंद्र प्रसाद, संजय शर्मा, आनन्द शर्मा, मनोज शुक्ला, सुमन यादव, अनुज प्रताप यादव, नीलम आनंद, सुशील दीक्षित, पूरन पाल, निधि वर्मा, कुलदीप कुमार, रीता सिंह, अरसद मलिक, डा. राजीव चौहान, डा. मुकेश यादव, संचालक प्रधानाचार्य असरा अहमद आदि।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.