मतदान केंद्रों पर उपद्रव में 120 लोगों पर एफआइआर

मतदान केंद्रों पर उपद्रव में 120 लोगों पर एफआइआर

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में हुए मतदान के दौरान राजा का रामपुर थाना क्ष

JagranWed, 21 Apr 2021 03:56 AM (IST)

जागरण संवाददाता, एटा: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में हुए मतदान के दौरान राजा का रामपुर थाना क्षेत्र के एक मतदान केंद्र पर अराजकतत्वों ने जमकर उपद्रव मचाया। पुलिस और मतदानकर्मियों से मारपीट की गई। इसके बाद उपद्रवी मतपत्र और मतपेटिकाएं लूटकर भाग गए। वहीं जैथरा व बागवाला क्षेत्र में भी दो मतदान कर्मियों के साथ अभद्रता की गई। मतदान केंद्रों पर हुए उपद्रव के मामलों में 120 उपद्रवियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई गई है।

प्राथमिक विद्यालय कैला के बूथ संख्या 63 और 64 पर शाम को मतदान के समय 100 से अधिक उपद्रवियों ने धावा बोल दिया था। इस दौरान बूथ संख्या 63 के पीठासीन अधिकारी अशोक कुमार उपाध्याय तथा 64 के प्रेमकिशोर के अलावा अन्य मतदानकर्मियों तथा पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की गई। पीठासीन अधिकारियों ने दोनों बूथों की मतपेटिकाएं लूटकर ले जाने के भी आरोप लगाए हैं। राजा का रामपुर के इंस्पेक्टर नरेश सिंह का कहना है कि सोमवार रात पीठासीन अधिकारी अशोक कुमार उपाध्याय तथा प्रेमकिशोर द्वारा दी तहरीर पर मारपीट करने, जान से मारने की धमकी देने, मतपेटिकाएं लूटकर निर्वाचन कार्य में बाधा डालने के मामले 100 से अधिक लोगों के खिलाफ दर्ज कर लिए गए हैं।

दूसरी ओर जैथरा थाने के ग्राम सहोरी स्थित बूथ संख्या 12 पर भी उपद्रवियों ने मतदानकर्मियों से अभद्रता की। इस दौरान क्षेत्र पंचायत सदस्य के बैलेट पेपर लूट लिए। उपनिरीक्षक चरन सिंह ने बताया कि मतपेटिकाएं जमा करने के बाद सोमवार रात पीठासीन अधिकारी कृपाशंकर की तहरीर पर 10-11 उपद्रवियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं बागवाला स्थित मतदान केंद्र पर कर्मचारियों के साथ अभद्रता की गई। इस संबंध में सेक्टर मजिस्ट्रेट भीमसेन ने बागवाला निवासी विनोद कुमार के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई है।

पिलुआ थाने के ग्राम कपरेटा स्थित मतदान केंद्र पर भी कुछ लोगों ने मतदान में व्यवधान डालने का प्रयास किया। उपनिरीक्षक जहांखीर खां की ओर से कपरेटा निवासी रवि समेत छह के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। इसके अलावा करीब दर्जनभर मतदान केंद्रों पर कर्मचारियों के साथ अभद्रता और मतदान में व्यवधान डालने का प्रयास किया गया था। ..तो हिम्मत नहीं जुटा पाते उपद्रवी

---------

कैला स्थित मतदान केंद्र पर हमले में घायल हुए पुलिसकर्मी का कहना था कि उपद्रव से पहले उसने पुलिस अधिकारियों को आगाह किया था, लेकिन किसी ने उसकी सुनवाई नहीं की। यदि उन्होंने मेरी बात को गंभीरता से लेकर तत्काल अतिरिक्त फोर्स भेज दिया होता तो उपद्रवी मतदान केंद्र तक आने की हिम्मत नहीं जुटा सकते थे। कुछ लोगों ने बनाई थी वीडियो

------

मतदान केंद्र कैला के बूथ संख्या 64 के पीठासीन अधिकारी प्रेमकिशोर ने पुलिस को बताया कि शाम 5.45 बजे हुई मतदानकर्मियों से मारपीट, धक्का-मुक्की और मतपेटिकाएं लूटने की घटना की कुछ लोगों ने वीडियो भी बनाई है, जिसमें सबकुछ साफ दिखाई दे रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.