कोरोना को हराएंगे, कदम पीछे नहीं हटाएंगे

कोरोना को हराएंगे, कदम पीछे नहीं हटाएंगे
Publish Date:Sun, 20 Sep 2020 08:00 AM (IST) Author: Jagran

देवरिया: जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण के दौर में जहां लोग एक-दूसरे से मिलने में परहेज कर रहे हैं वहीं हर रोज जान हथेली पर लेकर डाक्टर व स्वास्थ्यकर्मी मरीजों की सेवा में जुटे हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों की सेवा करने वाले डाक्टर व स्वास्थ्यकर्मी लोगों के सामने उदाहरण बन गए हैं। लोग इनकी तारीफ कर रहे हैं।

चौबीस घंटे दे रहे सेवा

जिला अस्पताल के सीएमएस डा. छोटेलाल जब से कोरोना का संक्रमण शुरू हुआ है तब से लगातार अपनी सेवा दे रहे हैं। उनका हौसला कम नहीं हुआ है। वह कोरोना के लिए एलटू अस्पताल का निर्माण कराना हो या कोरोना के मरीजों की जांच के लिए डाक्टरों व स्टाफ की तैनाती करने का मामला हो हर जगह वह चौकस दिखे। कोरोना जांच कराने आने वाले मरीजों को कोई परेशानी न हो इसका वह पूरा ध्यान रखते हैं। कहते हैं सभी को अपना कार्य निष्ठा से करना चाहिए।

कोरोना से जारी है जंग

जिला अस्पताल में तैनात फार्मासिस्ट बलराम यादव हर रोज कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। वह इमरजेंसी ड्यूटी से लेकर मुख्य औषधि भंडार में ड्यूटी करते हैं। इसके अलावा कोविड में जांच के दौरान मेडिकल सामान व दवाओं के वितरण का कार्य करते हैं। वह लगातार पांच माह से सेवा दे रहे हैं। विदेश व महानगरों से आए लोग जब कोरोना की जांच कराने पहुंचते हैं तो उन्हें कोरोना के प्रति जागरूक भी करते हैं। कहते हैं मेरा पूरा जीवन देश और समाज को समर्पित है।

इनके जज्बे को सलाम

जिला अस्पताल में तैनात सफाईकर्मी शीला अपनी समयबद्ध ड्यूटी के कारण चर्चा में हैं। उनके सफाई कार्यों की चारो तरफ सभी लोग तारीफ कर रहे हैं। अस्पताल में लोग जिस वार्ड में ड्यूटी करते हैं लोगों को पता चल जाता है कि यहां शीला की तैनाती है। वह पूरे मनोयोग से अपना कार्य करती हैं। कहती हैं जब अस्पताल स्वच्छ रहेगा तो यहां संक्रमण नहीं फैलेगा। सफाई तो मैं करती हूं लेकिन यहां भर्ती मरीजों व तीमारदारों का सहयोग नहीं मिलता है।

मुस्तैदी से कर रहे कार्य

जिला अस्पताल के ब्लड बैंक में तैनात एलटी ध्रुपेंद्र कुमार राव कोरोना संदिग्धों की सैंपलिग में लगातार ड्यूटी कर रहे हैं। इसके अलावा वह ब्लड बैंक में ब्लड निकालने का भी कार्य करते हैं। जहां भी उनकी ड्यूटी लगाई जाती है वह पूरी मुस्तैदी के साथ कार्य करते हैं। कोरोना के दौरान जब ब्लड बैंक में रक्त की कमी हुई, तो अपने जन्मदिन पर रक्तदान किए । कहते हैं देश की सेवा के लिए मैं कभी पीछे नहीं हटने वाला नहीं हूं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.