एनकाउंटर के भय से गाड़ी से नहीं उतरे बदमाश

एनकाउंटर के भय से गाड़ी से नहीं उतरे बदमाश
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 07:00 AM (IST) Author: Jagran

देवरिया, जेएनएन। एनकाउंटर का खौफ बदमाशों पर दिखने लगा है। एसओजी टीम ने कोआपरेटिव चौराहे पर तीन गोली दागकर बदमाशों की गाड़ी तो रोक ली लेकिन बदमाशों में यूपी पुलिस का खौफ इतना अधिक था कि वह गाड़ी से ही नहीं उतर रहे थे। ऐसे में एसओजी व यातायात पुलिस ने तत्काल डंडे से लग्जरी गाड़ी का शीशा तोड़ दिया और खुद फाटक खोल कर बदमाशों को बाहर निकालना शुरू कर दिया। पुलिस के तेवर को देख एक बदमाश गाड़ी से उतरे ही हाथ जोड़ कर खड़ा हो गया, उसे लगा कि कहीं पुलिस गोली न चला दे। पुलिस ने चंद मिनट में ही बदमाशों को गाड़ी में बैठाया और लेकर चल दी। टीएसआइ ने जान जोखिम में डाल कर बदमाशों को रोका

यातायात उप निरीक्षक रामवृक्ष यादव को पूरे जिले के लोग सिघम के नाम से पुकारते हैं, लेकिन सोमवार को टीएसआइ ने सिघम स्टाइल में काम भी किया। जब एसओजी टीम ने चार पहिया सवार बदमाशों को रोकने का निर्देश दिया तो टीएसआइ ने सरकारी जीप में लगे लाउडस्पीकर से दुकानदारों से दुकानें बंद करने की बात कही। अपनी गाड़ी दूसरी लेन में ले जाकर खड़ी कर दी। बदमाश सामने खड़ी यातायात पुलिस की गाड़ी को देख रुक गए। इसके बाद टीएसआइ अपनी गाड़ी से कूद कर बदमाशों की तरफ बढ़े। जबकि एसओजी ने गोली चलानी शुरू कर दी। अचानक गोली चलने से भयभीत हो गए लोग

दोपहर में शहर में सबकुछ सामान्य चल रहा था। अचानक टीएसआइ ने यातायात रोक दिया खुद पुलिस कर्मियों के साथ मोर्चा संभाल लिए। इस बीच बदमाशों की कार आई आई और फिर गोली चलने लगी। अचानक यह सब होता देख लोग भयभीत हो गए। कुछ लोग घटना की वीडियो बनाने में जुट गए। हालांकि बदमाशों की तरफ से कोई प्रतिरोध नहीं किया गया। चंद मिनट बाद ही पुलिस की पूरी कार्रवाई का वीडियो वायरल होने लगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.