घर के सामने से स्कार्पियो उठा ले गए चोर

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रदेश महासचिव अभयनंदन बरनवाल की स्कार्पियो चोर बुधवार की रात उठा ले गए। स्कार्पियो चुराने के लिए चोर कार से आए थे। चोरों के आने का नजारा सीसीटीवी फुटेज में कैद है। पुलिस व एसओजी ने घंटों सीसीटीवी फुटेज को खंगाला है।

JagranThu, 18 Nov 2021 10:45 PM (IST)
घर के सामने से स्कार्पियो उठा ले गए चोर

देवरिया: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रदेश महासचिव अभयनंदन बरनवाल की स्कार्पियो चोर बुधवार की रात उठा ले गए। स्कार्पियो चुराने के लिए चोर कार से आए थे। चोरों के आने का नजारा सीसीटीवी फुटेज में कैद है। पुलिस व एसओजी ने घंटों सीसीटीवी फुटेज को खंगाला है। सुभासपा नेता ने सदर कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर मुकदमा लिखने व स्कार्पियो बरामदगी की मांग की है।

शहर के भीखमपुर रोड के रहने वाले अभयनंदन बरनवाल पार्टी के प्रचार में रामपुर कारखाना विधानसभा क्षेत्र में गए थे। वह रात करीब 11 बजे मकान पर पहुंचे। स्कार्पियो को मकान के सामने खड़ी कर सोने चले गए। गुरुवार की सुबह जब सोकर उठे तो गाड़ी गायब देख दंग रह गए। इसकी सूचना डायल 112 पुलिस को दी। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर छानबीन शुरू कर दी। इंस्पेक्टर सदर कोतवाली नवीन कुमार सिंह स्कार्पियो चोरी की घटना में अहम जानकारी मिली है। कोतवाली पुलिस के अलावा एसओजी भी लगी है। जल्द ही चोरी की घटना का पर्दाफाश किया जाएगा। सीसीटीवी फुटेज से मिली अहम जानकारी

गली में गिट्टी बालू की दुकान में सीसीटीवी कैमरा लगा है। एसओजी व पुलिस को फुटेज में पता चला कि रात में करीब दो बजे एक कार आते हुए दिखाई दे रही है। कुछ देर बाद स्कार्पियो लेकर लोग जा रहे हैं। पुलिस का अनुमान है कि स्कार्पियो का लाक खोलने वाले शातिर चोर होंगे। जिन्होंने आसानी से लाक खोलकर गाड़ी स्टार्ट किया होगा। हर्ष चंद इंटर कालेज के प्रधानाचार्य व लिपिक पर दर्ज होगा मुकदमा

देवरिया: हर्ष चंद इंटर कालेज बरहज के प्रधानाचार्य व लिपिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज होगा। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सूर्यकांत धर दुबे की अदालत ने गुरुवार को यह आदेश बरहज पुलिस को दिया है। इन पर विद्यालय के विद्यार्थियों की फीस वसूल कर गबन करने का आरोप है। कालेज के प्रबंधक मुदित केडिया ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में याचिका दायर कर आरोप लगाया कि वर्ष 2019-20, 2020-21 के विद्यार्थियों का पांच लाख 87 हजार रुपये प्रधानाचार्य महेश्वर पांडेय व लिपिक राधेश्याम यादव ने वसूल किया, लेकिन उसके शासकीय कोष में जमा नहीं किया। इसकी उन्होंने अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा से की। उन्होंने जिला विद्यालय निरीक्षक से जनवरी 2021 में आरोपितों पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया, लेकिन आरोपितों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसके बाद उन्होंने बरहज पुलिस को तहरीर दी, लेकिन बावजूद कार्रवाई नहीं हो सकी। इसके बाद मुदित ने न्यायालय में याचिका दायर की। हालांकि देर शाम तक इस मामले में मुकदमे की कार्रवाई नहीं हो सकी थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.