top menutop menutop menu

बारिश से नदियां उफान पर

देवरिया: बारिश होने के बाद बाढ़ विभाग की तैयारियों की पोल खुलने लगी है। अभी तक अतिसंवेदनशील बंधों की मरम्मत का कार्य पूरा नहीं हो सका है। नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। यही हाल रहा तो जर्जर बांध तबाही मचाएंगे। तटवर्ती गांवों के लोग चितित हैं।

हालत यह है कि नींबा से बनकटी तक बांध जर्जर है। तिघरा मराछी गांव के निकट जमींदारी, पलिया -छपरा बांध छपरा गांव के समीप काफी कमजोर हो गया है। यहां अबतक मरम्मत कार्य पूरा नहीं हो रहा है। पटवनिया के निकट भी बांध कमजोर है। इसके अलावा करहकोल, मांझानारायन, भेड़ी,भुसउल, करनपुर, गाजन छपरा,डढि़या, केवटलिया, गायघाट गांव के सामने कटान का खतरा है। दूसरी तरफ बरहज के कुर्ह परसिया व कटइलवा के निकट नदी की कटान हो रहा है। अभी तक मरम्मत कार्य पूरा नहीं हो सका।

नकइल निवासी कुंवर शैलेंद्र सिंह, स्वामी परमानंद गिरी, मनोज सिंह, करहकोल अखंड प्रताप सिंह, हडहा गांव के रमेश यादव, नींबां के महेंद्र शुक्ल, कोड़र के बीरेंद्र यादव, बनकटी के रामाज्ञा, धर्मपुर के विनोद तिवारी, रामबहाल यादव,छपरा गांव के राजेश तिवारी, धीरवा के रविद्र पांडेय, पटवनिया के ओम प्रकाश सिंह,डढि़या के राहुल यादव ने कहा कि बांध जर्जर हैं। लेकिन अभी तक मरम्मत नहीं होने से कटान का खतरा है।

-----------------------

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.