खुले प्राथमिक विद्यालय, पुष्प वर्षा कर बच्चों का स्वागत

खुले प्राथमिक विद्यालय, पुष्प वर्षा कर बच्चों का स्वागत

शासन ने सोमवार व गुरुवार को कक्षा पहली व पांचवीं मंगलवार व शुक्रवार को कक्षा दूसरी व चौथी व बुधवार व शनिवार को कक्षा तीसरी के बच्चों को विद्यालय आने का शिड्यूल तय किया गया है। पहले दिन कक्षा एक से पांचवीं तक के छात्र पहुंच गए। शिक्षकों ने उनका स्वागत किया।

JagranTue, 02 Mar 2021 01:16 AM (IST)

देवरिया: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के चलते सालभर से बंद प्राथमिक विद्यालय सोमवार को खुल गए। अधिकतर प्राथमिक विद्यालय गुब्बारे से सजाए गए थे। कई जगहों पर बच्चों का तिलक लगाकर, पुष्प वर्षा कर व गुलाब का फूल देकर स्वागत किया गया। बच्चों के आने से विद्यालय गुलजार हुए। कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए कई जगहों पर थर्मल स्क्रीनिग की गई।

शासन ने सोमवार व गुरुवार को कक्षा पहली व पांचवीं, मंगलवार व शुक्रवार को कक्षा दूसरी व चौथी व बुधवार व शनिवार को कक्षा तीसरी के बच्चों को विद्यालय आने का शिड्यूल तय किया गया है। पहले दिन कक्षा एक से पांचवीं तक के छात्र पहुंच गए। शिक्षकों ने उनका स्वागत किया। वहीं निजी विद्यालय भी बच्चों के आने से गुलजार रहे। शहर के सूर्या एकेडमी में प्रधानाचार्य मोनिका अरोरा व अन्य शिक्षकों ने गुलाब का फूल देकर बच्चों का स्वागत किया। देसही देवरिया के पौहारीछापर, धनौती रजडीहा व घोठा रसूल प्राथमिक विद्यालयों को आकर्षक तरीके से सजाया गया था। पहले दिन बच्चों खेलने के मूड़ में दिखे।

पथरदेवा संवाददाता के अनुसार, क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालयों में थर्मल स्क्रीनिग व सैनिटाइजर हाथों में लगवाकर बच्चों को प्रवेश दिया गया। दोपहर में बच्चों ने मध्याह्न भोजन का स्वाद चखा। प्राथमिक विद्यालयों के अलावा निजी विद्यालयों में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच बच्चों का स्वागत किया गया। प्राथमिक विद्यालय महुआडीहा में थर्मल स्क्रीनिग की गई। हाथों पर सैनिटाइजर लगाने के बाद तिलक लगाया गया। बच्चों से फीता कटवाने के बाद अलग-अलग कक्षाओं में बैठाया गया। मिष्ठान का वितरण भी किया गया। आडियो के माध्यम से बच्चों को प्रेरणा एप पर उपलब्ध कविता व बच्चों के शिक्षा संबंधित उपलब्ध सामग्रियों की जानकारी दी गई। प्राथमिक विद्यालय भैसाडाबर, कंठी पट्टी, कुचिया, आनंद नगर, मछैला, मुरार छापर, रामपुर महुआबरी, नोनिया पट्टी, रामनगर, धर्मचौरा, विशुनपुरा, भेली पट्टी व फरेंदहा में बच्चों का स्वागत किया गया।

भाटपाररानी, सलेमपुर व बरहज, रुद्रपुर,लार, बघौचघाट, गौरीबाजार, भागलपुर संवाददाता के अनुसार तहसील क्षेत्र में कक्षा एक पांच तक कक्षाओं के शुरू होने के पहले दिन एक व पांच के बच्चे स्कूलों में आए। कई स्कूलों में बच्चों का स्वागत किया गया।

पड़री बाजार संवाददाता के अनुसार कोविड-19 संक्रमण के कारण बीते मार्च से बंद चल रहीं कक्षा एक से पांच तक की कक्षाएं सोमवार से चालू हो गईं हालांकि क्षेत्र के तमाम विद्यालयों में कोविड -19 प्रोटोकाल का पालन नहीं हुआ। प्रोटोकाल के तहत ही समस्त संबद्ध व परिषदीय विद्यालयों में कक्षाओं को शुरू करने का आदेश था।

रेवली संवाददाता के अनुसार प्राथमिक विद्यालय रेवली नंबर 2 पर विद्यालय परिवार ने सभी छात्रों को माला पहनाकर एवं मिठाई खिलाकर उनका स्वागत किया। खुखुंदू संवाददाता के अनुसार डेहरी उर्फ तिलौली प्राथमिक विद्यालय को गुब्बारे से सजाया गया था। इस दौरान विद्यालय के सामने गजराज को मुख्य द्वार पर खड़ा कर बच्चों का स्वागत किया गया। हालांकि हाथी लाने की अनुमति शिक्षा विभाग से नहीं ली गई थी। गांव के प्रधान पवन यादव ने कहा कि शुभ काम के कारण हाथी को महावत के साथ बुूलाया गया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.