शिक्षकों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही सरकार :डा.दिनेश

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष डा.दिनेश चंद्र शर्मा ने कहा कि शिक्षक समाज का मार्गदर्शक होता है। हम नीति और रीति भी निर्धारित करते हैं।

JagranTue, 28 Sep 2021 12:08 AM (IST)
शिक्षकों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही सरकार :डा.दिनेश

देवरिया : उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष डा.दिनेश चंद्र शर्मा ने कहा कि शिक्षक समाज का मार्गदर्शक होता है। हम नीति और रीति भी निर्धारित करते हैं। लेकिन एक ही देश में दो प्रकार का नियम बनाकर सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है, उसे अब शिक्षक बर्दाश्त करने वाला नहीं है। प्रदेश में आने वाला चुनाव देश की दशा व दिशा तय करेगा। ऐसे में शिक्षक जाति और धर्म से ऊपर उठकर अपनी मांगों को लेकर लड़ाई लड़ें और सरकार के खिलाफ बिगुल बजाएं।

वह देसही देवरिया विकास खंड के पकड़ी वीरभद्र स्थित जुगल किशोर खेतान ब्रह्मदेव तिवारी इंटर कालेज में आयोजित उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के शैक्षिक संगोष्ठी एवं सेवानिवृत्त शिक्षकों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली न होने पर 2022 में प्रदेश की तस्वीर बदलने का काम शिक्षक करेंगे। मांगे पूरी हुई तो सरकार का सम्मान करेंगे, नहीं तो सरकार को उखाड़ फेंकने का भी कार्य शिक्षक पूरे प्रदेश में करेंगे। कहा कि महाआंदोलन के अगले चरण में आरपार का संघर्ष होगा। पांच अक्टूबर से तीसरे चरण की शुरूआत होगी। कार्यक्रम को प्रदेशीय महामंत्री संजय सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राधे रमण, शिवशंकर पांडेय ने संबोधित किया। इस दौरान जिलाध्यक्ष शैलेंद्र कुमार सिंह, आनंद प्रकाश यादव, डा.सत्य प्रकाश सिंह, पुरुषोत्तम, संजय सिंह, आलोक सिंह, निर्भय राय, विजय शंकर यादव, फकरे आलम, जयप्रकाश मणि, ऋषिकेश, अमलेश सिंह ने अतिथियों का स्वागत किया। इस दौरान 200 सेवानिवृत्त शिक्षकों को अंग वस्त्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर ब्लाक प्रमुख प्रज्ञा तिवारी, बीएसए संतोष कुमार राय,पूर्व ब्लाक प्रमुख गिरिजा शंकर तिवारी, वित्त एवं लेखाधिकारी अबरार आलम, सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी उपेंद्र मणि, बैजनाथ पति त्रिपाठी, बसंती राय, गायत्री तिवारी, सरिता जायसवाल, जेपी सिंह, नित्यानंद यादव, रमेश प्रताप यादव, ओमप्रकाश शुक्ल, गोविद मिश्र, अवधेश सिंह, संजय कुमार मिश्र, विक्रम प्रताप राव, नलिनी रंजन तिवारी, विजय शंकर यादव मौजूद रहे। प्रदेश अध्यक्ष ने आंदोलन की घोषणा की

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आंदोलन का अगला चरण पांच अक्टूबर से शुरू हो रहा है। जिसमें शिक्षक, कर्मचारियों को पुरानी पेंशन बहाली, दस लाख का बीमा, रसोइया का 10 हजार मानदेय, महंगाई भत्ता के एरियर भुगतान, संविदा शिक्षकों को स्थायी करने की मांग शामिल हैं। जबकि चौथा चरण 28 अक्टूबर को जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना, पांचवां चरण 30 नवंबर को लखनऊ के इको पार्क में महारैली का कार्यक्रम आयोजित होगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.