लापरवाही की हद: स्लैब के बीच छोड़े गए होल

कुंवर पंकज एडीएम प्रशासन ने बताया कि नाला निर्माण व स्लैब रखने की भी जिम्मेदारी लोक निर्माण विभाग की थी लेकिन सफाई आदि की जिम्मेदारी नगर पालिका की है। सफाई के दौरान नाले पर रखा स्लैब ठीक क्यों नहीं किया गया। इसकी जांच कराई जाएगी।

JagranTue, 30 Nov 2021 11:21 PM (IST)
लापरवाही की हद: स्लैब के बीच छोड़े गए होल

देवरिया: विकास भवन गेट पर प्रशासनिक लापरवाही ने मासूम की सोमवार की रात जान ले ली। इसके बावजूद विभाग अपनी जिम्मेदारी लेने की बजाय दूसरे विभाग पर आरोप मढ़ने में जुटे हैं। नागरिकों से कर वसूलने वाली नगर पालिका घटना से सबक लेने को तैयार नहीं है। प्रमुख स्थानों पर नालों पर या तो स्लैब नहीं है, अगर है तो वहां होल छोड़ दिया गया है, जिसके चलते कभी भी बड़ा हादसा होने से इन्कार नहीं किया जा सकता।

शहर की जल निकासी की व्यवस्था बेहतर करने के लिए सिविल लाइन रोड पर नाला बनाया गया है। नाले का निर्माण लोक निर्माण विभाग ने कराया है। स्लैब भी लोक निर्माण विभाग ने ही लगाया है। इन प्रमुख स्थानों पर भी है होल विकास भवन गेट पर हादसा होने के बाद भी नगर पालिका प्रशासन इन होलों को बंद करने को लेकर मंगलवार को गंभीर नहीं दिखी। जिलाधिकारी आवास के ठीक सामने दूसरी पटरी पर स्लैब हटा हुआ है, जगह-जगह बड़े होल हैं। बीएसएनएल कार्यालय के सामने यही स्थिति है। पोस्ट आफिस, कचहरी चौराहे को जाने वाली सड़क के किनारे बने नाला पर स्लैब नहीं है। इसी तरह रोडवेज गेट के सामने भी स्लैब हटा हुआ है। पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने भी यही स्थिति है। यहां भी बड़ा हादसा होने की संभावना रहती है।

तो इसलिए हो रही दिक्कत नाला पर स्लैब लगा है। स्लैब पर ही ठेला वाले अपनी दुकान लगा रहे हैं। नगर पालिका प्रशासन का कहना है कि ठेला दुकानदार ही स्लैब हटा देते हैं और कचरा नाले में डालते हैं। उनकी ही लापरवाही से इस तरह के हादसे हो रहे हैं।

रोहित सिंह, अधिशासी अधिकारी

नगरपालिका देवरिया ने बताया कि

छह प्रमुख स्थानों पर स्लैब नहीं लगा है, लोक निर्माण विभाग व अपर जिलाधिकारी प्रशासन को इससे अवगत कराया गया। फोटो सहित रिपोर्ट दी गई। इसके बाद भी लोक निर्माण विभाग धन का अभाव होने की बात कहते हुए स्लैब नहीं लगाया। विकास भवन गेट की घटना दुकानदारों की लापरवाही से हुई है।

कुंवर पंकज, एडीएम प्रशासन ने बताया कि नाला निर्माण व स्लैब रखने की भी जिम्मेदारी लोक निर्माण विभाग की थी, लेकिन सफाई आदि की जिम्मेदारी नगर पालिका की है। सफाई के दौरान नाले पर रखा स्लैब ठीक क्यों नहीं किया गया। इसकी जांच कराई जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.