एनएमसी शीघ्र परखेगा मेडिकल कालेज का मानक

देवरहा बाबा मेडिकल कालेज में तेजी हो रहा निर्माण कार्य साज सज्जा में दिन रात लगे मजदूर मेडिकल कालेज का मानक पूरा करने में जुटे हैं प्रधानाचार्य

JagranSat, 31 Jul 2021 11:57 PM (IST)
एनएमसी शीघ्र परखेगा मेडिकल कालेज का मानक

जागरण संवाददाता, देवरिया : महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कालेज को शुरू करने की दिशा में कदम बढ़ाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे के बाद युद्ध स्तर पर दिन रात कार्य किया जा रहा है। अधिकांश भवन बनकर तैयार हैं। साज सज्जा व फीनिशिग का कार्य हो रहा है। डाक्टरों की नियुक्ति के अलावा एनएमसी के मानक पूरा करने का कार्य किया जा रहा है।

मेडिकल कालेज का निर्माण कार्य 75 प्रतिशत से अधिक हो चुका है। जिसमें प्रथम एलओपी का कार्य पूरा कर लिया गया है। प्रशासनिक भवन, शैक्षणिक भवन, कार्यालय, कालेज काउंसिलिग कक्ष, डायरेक्टर बंगला, ब्वायज, ग‌र्ल्स हास्टल, नर्सेज हास्टल, टाइप टू, टाइप थ्री, फोर व फाइव आवास तैयार है। इसके अलावा 120 बेड अस्पताल, ग‌र्ल्स ब्वायज इंटर्न, मल्टीपरपज हाल निर्माणाधीन है। 70 फीसद से अधिक कार्य हो चुके हैं। तीन फैकल्टी शुरू करने की तैयारी एमबीबीएस प्रथम वर्ष में पढ़ाई का कार्य शुरू करने के लिए सबसे पहले एनाटामी, बायोकेमेस्ट्री, फिजियोलाजी की पढ़ाई शुरू होगी। इन तीनों फैकल्टी में पढ़ाने के लिए चिकित्सा शिक्षकों की तैनाती कर ली गई है। डाक्टर हर रोज प्रशासनिक भवन में बैठ रहे हैं। फिलहाल वह प्रधानाचार्य के साथ मेडिकल कालेज के कार्यों को पूरा कराने में जुटे हैं।

-

51 के सापेक्ष 29 चिकित्सा शिक्षकों का हुआ चयन

महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कालेज में कुल 52 चिकित्सा शिक्षकों की तैनाती होनी है। अभी तक 29 प्रोफेसरों का चयन किया गया है। मानक के अनुसार डाक्टर ढूंढे नहीं मिल रहे हैं। जूनियर रेजीडेंट के सभी 50 पदों पर नियुक्ति कर दी गई है। सीनियर रेजीडेंट में 24 के सापेक्ष नौ का चयन किया गया है।

--

इन बिदुओं पर भी रहेगी एनएमसी की नजर

नेशनल मेडिकल कमीशन यानी एनएमसी बिना जानकारी दिए ही अचानक जांच के लिए पहुंचता है। टीम निर्धारित समय में सभी डाक्यूमेंट चेक करते हैं। अस्पताल व मरीजों को दी जाने वाली सुविधाओं की चेकलिस्ट इतनी बड़ी है कि उसे पूरा करने में पसीना छूट रहा है। अभी कई ऐसे नए विभाग हैं जिसे शुरू करना है। उसमें एक भी चिकित्सा शिक्षक की तैनाती नहीं हो सकी है। जिसमें कार्डियो विभाग, फोरेंसिक विभाग, एसपीएम विभाग, इमरजेंसी मेडीसीन विभाग में किसी चिकित्सक की तैनाती नहीं हो सकी है। मेडिकल कालेज के मानक के हिसाब से दिनरात कार्य किया जा रहा है। चिकित्सा शिक्षकों के चयन की प्रक्रिया चल रही है। एनएमसी के आने का इंतजार है। तैयारियां अंतिम दौर में है।

डा. आनंद मोहन वर्मा

प्रधानाचार्य, महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कालेज, देवरिया

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.