आम लोगों की जिदगी बचाने को कोरोना क‌र्फ्यू जरूरी

आम लोगों की जिदगी बचाने को कोरोना क‌र्फ्यू जरूरी

जागरण संवाददाता देवरिया जिले में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। जिला प्रशासन ने बुधवार

JagranWed, 21 Apr 2021 12:34 AM (IST)

जागरण संवाददाता, देवरिया: जिले में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। जिला प्रशासन ने बुधवार व गुरुवार की रात निषेधाज्ञा लागू की है। शासन द्वारा शुक्रवार की रात आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे व रोज रात में आठ बजे से सुबह सात बजे तक कुछ जिलों में कोरोना क‌र्फ्यू लागू करने के निर्णय को व्यापारियों ने जिला प्रशासन व शासन के निर्णय की सराहना की है। जागरण से बातचीत में व्यापारियों ने खुलकर अपनी बात रखी।

----

जिस तेजी से कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। उसे देखते हुए सरकार का निर्णय उचित है।

इस समय शादी विवाह का सीजन चल रहा है। इसको देखते हुए जिला प्रशासन व सरकार को रात नौ बजे से सुबह सात बजे तक बंदी करना चाहिए। दो घंटे का समय मिलना चाहिए। ताकि दुकानों पर सामानों की खरीदारी करने के बाद लोग अपने घरों को जा सकें।

शक्ति गुप्ता

अध्यक्ष

जिला उद्योग व्यापार मंडल

-----------------

सरकार का कदम स्वागतयोग्य है। संक्रमण रोकने के लिए कोरोना क‌र्फ्यू का निर्णय उचित है। आम जनमानस को संक्रमण से बचाने के लिए मास्क का प्रयोग करना चाहिए। जीवन को बचाना आज सबसे बड़ी चुनौती है। इसके लिए सभी को कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करना चाहिए।

रोहित छापड़िया, कारोबारी

-------------------------

तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को रोकना होगा। इसके लिए सरकार ने उचित निर्णय लिया है। यह निर्णय पहले ही लिया जाना चाहिए था। संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए कोरोना क‌र्फ्यू जैसे निर्णय बहुत आवश्यक है। हम सभी को

इसका पालन करना होगा। बिना मास्क के घर से बाहर निकलना ठीक नहीं है।

भरत अग्रवाल, कारोबारी

-----------------------

सरकार ने जनहित में यह कदम उठाया है। लोग सुरक्षित व स्वस्थ रहें, इसके लिए कोरोना क‌र्फ्यू जरूरी है। सरकार के दिशा-निर्देशों का हम सभी को पालन करना चाहिए। हिदी में एक कहावत है कि जान है तो जहान है यानी जिदगी है तो सब कुछ है। यदि जीवन ही नहीं रहेगा तो जीवन की हर चीज बेकार हो जाती है।

अखिलेश जायसवाल

अध्यक्ष

जनपद व्यापार मंडल देवरिया

-

ओकेएम इंटर कालेज के लिपिक की मौत

लार: मंगलवार को सुबह कस्बे के ओकेएम इंटर कालेज के एक लिपिक की आक्सीजन की कमी से मौत हो गई । ओकेएम इंटर कालेज के सहायक लिपिक मोहम्मद रेहान उम्र 33 पुत्र आबिद अली की तबीयत खराब हो गई । स्वजन उन्हें सीएचसी ले गए। जहां डाक्टरों ने बताया कि आक्सीजन लेवल कम है। यहां से आक्सीजन लगे एंबुलेंस से उन्हें सदर अस्पताल भेजा गया जहां से मेडिकल कालेज गोरखपुर रेफर कर दिया। उसके बाद स्वजन गोरखपुर ले गए वहां बेड खाली न होने से भर्ती नहीं हो पाए। लोग अभी प्रयास कर ही रहे थे की एंबुलेंस में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। उनके भाई मरगूब ने बताया कि आक्सीजन की कमी की वजह से उनकी मौत हो गई । उनकी अचानक मौत से स्वजन में मातम छा गया। मृतक का एक छह वर्ष का पुत्र और 4 वर्ष की पुत्री है।

व्यवसायी की मौत

सलेमपुर, देवरिया: नगर के सोहनाग रोड निवासी मोबाइल व्यवसायी दीपक शुक्ला 45 वर्ष की मंगलवार को मेडिकल कालेज में इलाज के दौरान मौत हो गई। वे कोरोना पाजेटिव थे। चार दिन पूर्व उनकी रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई थी, सांस लेने में परेशानी होने पर गोरखपुर स्थित एक प्राइवेट चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.