टूटी सड़कें व जाम नालियों से मुश्किल में नागरिक

जिम्मेदारों से शिकायत करने के बाद भी कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। पथ प्रकाश का बेहतर इंतजाम नहीं है। ऐसे तो इस वार्ड की आबादी 14 हजार है। सुविधाएं पहले से भले ही बेहतर किए गए हैं लेकिन वार्ड में आज भी कई ऐसी समस्याएं हैं जिसके चलते मोहल्ले के नागरिक परेशान रहते हैं।

JagranTue, 30 Nov 2021 11:04 PM (IST)
टूटी सड़कें व जाम नालियों से मुश्किल में नागरिक

देवरिया: शहर का प्रमुख मोहल्ला होने के बाद भी वार्ड संख्या 15 रामगुलाम टोला पश्चिमी का हाल गांव से भी खराब है। मोहल्ले की अधिकांश सड़कों के टूटने के कारण उन पर चलना आसान नहीं है। जल निकाली का इंतजाम बेहतर नहीं होने के चलते लोगों में संक्रामक बीमारियों के फैलने का भय है।

जिम्मेदारों से शिकायत करने के बाद भी कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। पथ प्रकाश का बेहतर इंतजाम नहीं है। ऐसे तो इस वार्ड की आबादी 14 हजार है। सुविधाएं पहले से भले ही बेहतर किए गए हैं, लेकिन वार्ड में आज भी कई ऐसी समस्याएं हैं, जिसके चलते मोहल्ले के नागरिक परेशान रहते हैं। नागरिक अपनी समस्याओं को लेकर जाते हैं, लेकिन समस्याओं के समाधान की बजाय केवल आश्वासन मिलता है। टूटी सड़कों से नागरिक परेशान मोहल्ले की अधिकांश सड़कें टूट गई हैं। बेरमहिया मंदिर के समीप पूरी सड़क टूट गई है। आंबेडकर छात्रावास को जाने वाली सड़क टूटी हुई है। नाली भी टूट गई है, जिसके चलते सड़क पर ही नाली का पानी बह रहा है। संतोष के घर के सामने सड़क टूट गई है। यही हाल जितेंद्र वर्मा के घर जाने वाली सड़क का भी है। वह सड़क टूट गई है और घर का गंदा पानी सड़क पर बह रहा है। मोहल्ले में अन्य सड़कों की भी स्थिति कुछ इसी तरह की है। साफ-सफाई का इंतजाम बेहतर नहीं है, जिसके चलते नाली चोक हो गई हैं। सड़क पर गंदा पानी बह रहा है। नाली जाम होने से संक्रामक बीमारियों के फैलने का भय है।

काशीनाथ सिंह, नागरिक विद्युत व्यवस्था बेहतर नहीं हैं, हमारे गली में लगा प्लास्टिक कोटेड केबल जर्जर हो गया है और झूल गया है। आए दिन वाहनों में वह केबल फंस जाता है। फाल्ट की समस्या ज्यादा है। बिजली आपूर्ति ठप हो जाती है। प्रेमचंद्र मद्धेशिया, नागरिक नाला की सफाई नहीं हुई है। नाला चोक हैं, एसएन सिंह के घर के पास नाला टूट गया है, ऊषा सिंह के घर के सामने नाला जाम पड़ा है। इस पर किसी का ध्यान नहीं नहीं है। नाला चोक होने से नालियों का पानी का बहाव नहीं हो पा रहा है। लाल बहादुर सिंह, नागरिक

बारिश के दिनों में यहां जलभराव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। इसके लिए कोई विशेष इंतजाम होना चाहिए। जलभराव के चलते ही अधिकांश सड़कें टूट जा रही है। मोहल्ले में कूड़ा रखने की कोई व्यवस्था नहीं है। जगह-जगह कूड़ा एकत्रित किया जा रहा है, जिससे बीमारियों के फैलने की आशंका रहती है। कृष्ण कुमार सिह, नागरिक पहले से व्यवस्था बेहतर हुई है। बहुत सी सड़क बन गई है। कुछ सड़क हैं जो बारिश के चलते टूट गई हैं। उनके मरम्मत के लिए प्रस्ताव दिया गया है। जर्जर तारों को बदलने के लिए भी बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता से मुलाकात की गई है। जल्द ही व्यवस्था बेहतर हो जाएगी। रजनी देवी जायसवाल, सभासद सड़कें टूटी हुई हैं। धन की कमी के चलते काम नहीं हो पा रहा है। धन मिलते ही मरम्मत का काम शुरू हो जाएगा। अन्य समस्याओं के निस्तारण के लिए प्रयास किया जा रहा है। रोहित सिंह, अधिशासी अधिकारी

नगर पालिका देवरिया

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.