बैंक की योजनाओं को लाभार्थियों तक पहुंचाएं : डीएम

किसानों के लिए संचालित केसीसी को प्राथमिकता के साथ बनाने एवं अन्य शासकीय योजनाओं की लक्ष्य प्राप्ति के लिए सघन अभियान चलाने का निर्देश दिया। कहा कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से पात्रों को लाभान्वित करने के लिए नगर निकाय नगर पालिकाओं को विशेष अभियान चलाने की आवश्यकता है।

JagranWed, 16 Jun 2021 02:26 AM (IST)
बैंक की योजनाओं को लाभार्थियों तक पहुंचाएं : डीएम

देवरिया: विकास भवन के गांधी सभागार में बैंकर्स की जिला स्तरीय समीक्षा समिति की त्रैमासिक समीक्षा डीएम आशुतोष निरंजन ने मंगलवार को की। डीएम ने सभी बैंकर्स एवं इससे जुडे़ विभागों को निर्देश दिया कि आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए बैंक वित्त पोषित योजनाओं का लाभ लाभार्थियों तक पूरी पारदर्शिता के साथ पहुंचाएं। आर्थिक स्वावलंबन का प्रमुख आधार बैंकों की वित्त पोषित योजनाएं है। इसमें शिथिलता कदापि न बरतें।

उन्होंने किसानों के लिए संचालित केसीसी को प्राथमिकता के साथ बनाने एवं अन्य शासकीय योजनाओं की लक्ष्य प्राप्ति के लिए सघन अभियान चलाने का निर्देश दिया। कहा कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से पात्रों को लाभान्वित करने के लिए नगर निकाय, नगर पालिकाओं को विशेष अभियान चलाने की आवश्यकता है। बैंकर्स एवं प्रशासन के बीच समन्वय स्थापित करने के लिए पाक्षिक अंतराल पर बैठक करें। अन्य विभाग टीम भावना से जुड़ कर कार्य करें। यदि बैकों की कोई समस्या हो तो बेहिचक उसे संज्ञान में ला सकते हैं। उसका समाधान कराया जायेगा।

डीएम ने कहा कि उद्योग, ग्रामोद्योग, मत्स्य, कृषि सहित अन्य विभाग जिनमें बैंक पोषित योजनाएं संचालित हैं, उन योजनाओं में जो भी पत्रावलियां लंबित है व लक्ष्य आवंटित हो, उसका शत प्रतिशत पूर्ति कार्य योजना के साथ किया जाए। उन्होंने प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, एक जनपद एक उत्पाद योजना, मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना, मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना, मुख्यमंत्री माटी कला योजना, पं. दीनदयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, स्वयं सहायता समूहों के सीसीएल, बैंकवार ऋण आदि के कार्य प्रगति की समीक्षा की।

एलडीएम राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि योजनाओं का क्रियान्वयन कर यह जनपद प्रथम स्थान हासिल करें, इसके लिये पूरा प्रयास किया जाएगा। बैठक में डीडीएम नाबार्ड संचित सिंह, कृषि, मत्स्य, पशुपालन, ग्रामोद्योग, उद्योग सहित जुडे़ अन्य विभागों के अधिकारी गण उपस्थित रहे।

बाढ़ से संबंधित सभी तैयारियां कर लें पूरी : डीएम

देवरिया: बाढ़ स्टेयरिग कमेटी की बैठक वर्जुअल माध्यम से की गई। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कहा कि बाढ़ एवं आपदा संबंधित तैयारी पूरी कर ली जाए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगा। बाढ़ अवधि में मलाहों के भुगतान लंबित हों तो उसे तत्काल कर दिया जाए।

उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में छोटी नाव नहीं चलेंगी। केवल बड़ी व मध्य की नाव ही चलेगी। छोटी नाव से दुर्घटनाएं ज्यादा होती है। स्वास्थ्य विभाग दवाओं की उपलब्धता रखे। पशुओं को टीका लगा दिया जाए। मत्स्य राज्य मंत्री जय प्रकाश निषाद ने कहा कि बाढ़ तटबंधों एवं सड़कों के निर्माण कार्यो की धीमी प्रगति है, इसकी समीक्षा कर कार्यो में तेजी लाया जाएं। सदर विधायक डा. सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी ने कुर्ना नाला की सफाई एवं इस पर अतिक्रमण, देवरिया-बेलडाड़ सडक की खराब स्थिति, ट्रांसफार्मर व जर्जर तार, जल निगम विभाग द्वारा सड़कों की खोदाई कर पैचिग कार्य न होने की बात कही। विधायक सुरेश तिवारी ने भी समस्याएं रखी। जिस पर जिलाधिकारी ने संबंधित विभाग के अधिकारियों से निस्तारण करने को कहा। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व उमेश कुमार मंगला ने राजस्व विभाग द्वारा तैयार कार्य योजना बाढ़ चौकी, नाव की उपलब्धता, खाद्य पदार्थों की उपलब्धता आदि की जानकारी दी गई। बैठक में उपजिलाधिकारी सौरभ सिंह, सलेमपुर ओमप्रकाश बरनवाल, बरहज संजीव यादव, रुद्रपुर संजीव उपाध्याय, सीएमओ डा.आलोक पांडेय, डीएसओ विनय कुमार, जिला कृषि अधिकारी मोहम्मद मुजम्मिल समेत अन्य अधिकारी जुड़े रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.