यात्रा भत्ता व अन्य मांगों के लेकर लेखपालों ने निकाला बाइक जुलूस

जागरण संवाददाता, चंदौली : यात्रा भत्ता सहित विभिन्न मांगों के समर्थन में उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के सदस्यों ने मंगलवार को मुख्यालय के बिछियां स्थित धरनास्थल से बाइक जुलूस निकाला। जुलूस पूरे नगर का भ्रमण करते हुए तहसील पहुंचकर समाप्त हुआ। शासन-प्रशासन पर उपेक्षा का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की। बोले, विभागीय अधिकारियों की ओर से दबाव बनाकर अतिरिक्त कार्य कराया जा रहा। मांगों पर विचार नहीं किया गया तो विधानसभा का घेराव करेंगे।

संघ के जिलाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार यादव ने कहा विभागीय कार्यों से फुर्सत नहीं है। वहीं अधिकारियों की ओर से दबाव बनाकर बीएलओ, सुपरवाइजर, आइजीआरएस, जनगणना का अतिरिक्त कार्य सौंप दिया गया है। इसको पूरा करने के लिए क्षेत्र में भ्रमण करना पड़ता है। जबकि यात्रा भत्ता के नाम पर मामूली धनराशि वेतन के साथ भेज दी जाती है। रोजाना चार रुपये से भी कम यात्रा भत्ता दिया जाता है। महंगाई के इस दौर में इतनी कम धनराशि देकर शासन-प्रशासन लेखपालों को अपमानित करने का काम कर रहा। कहा लेखपालों को अतिरिक्त कार्य दिए जाने से विभागीय कार्य प्रभावित होते हैं। समीक्षा के दौरान खराब प्रगति के नाम पर लेखपालों पर कार्रवाई की जाती है। ऐसे में अतिरिक्त प्रभार, आइजीआरएस निस्तारण, बीएलओ व सुपरवाइजर का अतिरिक्त कार्य न करने निर्णय लिया गया है। ऐसे में यदि अधिकारियों की ओर से दबाव बनाया गया तो लेखपाल सड़क पर उतरकर धरना-प्रदर्शन करने को विवश होंगे। चेताया कि यदि जायजा मांगों पर विचार नहीं किया गया तो पांच दिसंबर को विधानसभा का घेराव करेंगे। सुजीत यादव, दिलीप कुमार गोंड, रामकेश यादव, सूर्यप्रकाश, संदीप कुमार मौर्य, बेचूलाल यादव, वरुण कुमार उपस्थित थे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.