एडीजी के आगमन से पहले कुछ यूं दिखा नजारा

जागरण संवाददाता, चंदौली : जिले में दो दिवसीय दौरे पर एडीजी के आगमन को लेकर पुलिस लाइन में अंतिम दौर तक तैयारियां चलती रहीं। हर कोई परिसर और कार्यालय को चमकाने में जुटा था। पुलिसर्किमयों के हाथ में बंदूक की जगह झाड़ू-पोछा दिख रहा था। आफिस में लगे पंखे, कूलर, कुíसयां, टेबल व आलमारियां चमक गईं। महीनों से आलमारियों में पड़ी फाइलों, रजिस्टरों व अभिलेखों पर जमी धूल भी साफ हो गई। ताकि एडीजी के सामने सब कुछ अपडेट दिखे।

एडीजी बृजभूषण अपने दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार की शाम जिले में पहुंचे। पहले दिन बबुरी थाना, सदर कोतवाली व पुलिस लाइन स्थित विभिन्न दफ्तरों के निरीक्षण का कार्यक्रम तय था। इसको लेकर पुलिसकर्मी तैयारियों में जुटे रहे। पुलिस लाइन व सदर कोतवाली परिसर को चमकाने के साथ ही दफ्तरों की भी आखिरी क्षणों तक सफाई होती रही। कार्यालयों में तैनात हमेशा सिविल ड्रेस में रहने वाले पुलिसकर्मी भी बर्दी में नजर आए। वहीं हाथों में बंदूकों की बजाए झाड़ू-पोछा लेकर कार्यालय में रखी गई आलमारियों, पंखे, कुर्सी, टेबल आदि की सफाई में जुटे रहे। फाइलों व अभिलेखों को भी अपडेट किया गया। आमतौर पर दफ्तरों की नियमित सफाई नहीं होती है। इसके चलते धूल व गंदगी का आलम रहता है। आलमारियों में पड़ी धूल-धूसरित फाइलों की भी सुधि लेने वाला कोई नहीं होता। एडीजी के आगमन के चलते दफ्तरों व फाइलों के दिन बहुर गए। पुलिसकर्मी युद्धस्तर पर दफ्तर को चमकाने में लगे रहे। महिला कांस्टेबल व उपनिरीक्षक भी इसमें पीछे नहीं रहीं। एएसपी प्रेमचंद ने कार्यालय में पहुंचकर तैयारियों का जायजा लिया। अभिलेखों का अवलोकन कर कमियों को तत्काल सुधरवाया। पुलिसर्किमयों की कोशिश रही कि एडीजी के सामने किसी भी तरह की कमी न उजागर होने पाए।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.