दिसंबर --2022 तक बनकर तैयार हो जाएगा मेडिकल कालेज

जागरण संवाददाता सैयदराजा (चंदौली) केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री और सांसद डाक्टर महेंद्र नाथ प

JagranSun, 26 Sep 2021 08:14 PM (IST)
दिसंबर --2022 तक बनकर तैयार हो जाएगा मेडिकल कालेज

जागरण संवाददाता, सैयदराजा (चंदौली) : केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री और सांसद डाक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा जिले को दिसंबर 2022 तक मेडिकल कालेज की सौगात मिल जाएगी। चंदौली के इतिहास में चिकित्सा क्षेत्र की अब तक की यह सबसे बड़ी परियोजना है। इससे न सिर्फ जनपद को लाभ होगा बल्कि बिहार व पूर्वांचल के अन्य जिले के लोग भी लाभान्वित होंगे। रिग रोड का निर्माण होने से इसका महत्व और बढ़ जाएगा। वे रविवार को सैयदराजा के नौबतपुर में निर्माणाधीन मेडिकल कालेज का निरीक्षण करने पहुंचे थे।

केंद्रीय मंत्री ने कंस्ट्रक्शन कंपनी के डीडीएम रंगाराव झाला से निर्माण के बारे में विस्तार से जानकारी ली। गुणवत्तापूर्ण ढंग से नीयत समय में निर्माण पूरा कराने का निर्देश दिया। बोले, मेडिकल कालेज से चिकित्सा क्षेत्र में नया अध्याय जुड़ेगा। यह जीटी रोड पर बनने वाला भारत का पहला मेडिकल कालेज है। सरकार चिकित्सा क्षेत्र को बेहतर बनाने की दिशा में काम कर रही है। बीएचयू पहले 300 बेड का अस्पताल था। प्रधानमंत्री मोदी ने इसे 2200 बेड का बनवा दिया। मेडिकल कालेज के लिए 500 करोड़ रुपये बजट जारी किए गए हैं। इसमें 160 करोड़ रुपये उकरणों की खरीद में खर्च होंगे, जबकि 342 करोड़ की लागत से भवन निर्माण होगा। निर्धारित अवधि में निर्माण पूरा न होने पर सरकार बजट नहीं बढ़ाएगी। ट्रामा सेंटर के निर्माण की तकनीकी बाधा दूर कर ली गई है। इसे बीएचयू अथवा मेडिकल कालेज से संबंद्ध किया जाएगा। केंद्रीय मंत्री विपक्षियों पर निशाना साधने से नहीं चूके। बोले, मुख्यमंत्री योगी विश्व के सबसे बड़े कोरोना योद्धा हैं। कोरोना काल में प्रदेश की जनता को उसके हाल पर छोड़ने की बजाए अस्पतालों का निरीक्षण कर स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़वाने का काम किया। दूसरे दलों के मुखिया सिर्फ ट्वीटर की राजनीति करते हैं। केंद्रीय मंत्री ने नगर के मुख्य बाजार की रेलवे क्रासिग व निर्माणाधीन आरओबी का भी जायजा लिया। व्यापारियों ने मुख्य बाजार क्रासिग की बजाए दूसरे स्थान पर फुट ओवरब्रिज बनाने को लेकर परेशानी बताई। उन्होंने कार्यदायी संस्था के अफसरों से बातकर जानकारी ली। वहीं इसको लेकर रेल मंत्री व रेलवे बोर्ड व डीएफसीसी (डेडिकेटेड फ्रेड कारीडोर) के चेयरमैन से बात कर नया प्रस्ताव पास कराने का आश्वासन दिया। विधायक सुशील सिंह, साधना सिंह, जिलाधिकारी संजीव सिंह, एसपी अमित कुमार, सीडीओ अजितेंद्र नारायण, भाजपा जिलाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह, राणा प्रताप सिंह व अन्य मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.