top menutop menutop menu

सिचाई को लेकर किसानों ने दिया धरना

जागरण संवाददाता, चकिया (चंदौली) : टेल तक पानी पहुंचाने में अक्षम साबित हुए सिचाई विभाग के खिलाफ आखिरकार गुरुवार को बिठवल कला गांव में किसान धरने पर बैठने को मजबूर हो गए। भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले धरने पर बैठे किसानों ने सिचाई विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। किसान नेताओं ने सिचाई विभाग मनमाने रवैए को उजागर किया। कहां सिचाई विभाग के लापरवाही से कर्मनाशा लेफ्ट पर आधारित गौरी साख, सोता व धनावल रजवाहा में टेल तक पानी नहीं पहुंच सका है। इससे सोता, बसनिया, धनावल, गौरी, नरहरपुर,गौड़िहार, भावपुर ,कुर्थियां,भरुहियां कमती, करेमुआ, गजधरा,मवैया, घाटमपुर आदि दर्जनों गांव के सिवान में धान की रोपाई सिचाई नहीं हो पाई है। हजारों बीघा भूमि में धान की रोपाई नहीं हो पाई है। जर्जर माइनर, व नहर के बाबत कई बार विभाग के अधिकारियों के यहां लिखित व मौखिक रूप से गुहार किया गया, लेकिन कोई सुनवाई नहीं यूनियन के मंडल अध्यक्ष दीनानाथ श्रीवास्तव, जिलाध्यक्ष शेषनाथ नाथ यादव, तहसील अध्यक्ष वीरेंद्र पाल, इंद्रदेव पाठक, देशराज सिंह, अमरदेव सिंह, शशिकांत आदि लोग धरने पर बैठे थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.