महिलाओं को मिल रहा योजनाओं का लाभ: सुषमा

महिलाओं को मिल रहा योजनाओं का लाभ: सुषमा

नारी अब अबला नहीं रही। सरकार ने महिलाओं के कल्याण और उनके जीवन स्तर में सुधार के लिए कई लाभकारी योजनाएं लागू की हैं। यह विचार उत्तर प्रदेश महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह ने पहासू में आयोजित महिला सुनवाई व जागरूकता चौपाल में रखे।

JagranThu, 04 Mar 2021 11:19 PM (IST)

जेएनएन, बुलंदशहर। नारी अब अबला नहीं रही। सरकार ने महिलाओं के कल्याण और उनके जीवन स्तर में सुधार के लिए कई लाभकारी योजनाएं लागू की हैं। यह विचार उत्तर प्रदेश महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह ने पहासू में आयोजित महिला सुनवाई व जागरूकता चौपाल में रखे।

गुरुवार को पहासू में महिला सुनवाई एवं जागरूकता चौपाल का आयोजन किया गया। जिसमें महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह ने मौजूद किशोरियों और उनके अभिभावकों को शादी के तय उम्र से पहले शादी नहीं कराने की शपथ दिलाई। उन्होंने महिलाओं को समाज की मुख्य धारा में जुड़ने का आह्वान किया। महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया। इस मौके पर 400 सेनेटरी पैड तथा 165 सैनिटाइजर भी वितरित किए गए। कार्यक्रम में आंगनबाड़ी, स्वयं सहायता समूह और चिकित्सा विभाग ने स्टाल भी लगाए। स्वास्थ्य विभाग के शिविर में महिलाओं में 14-15 वर्ष की उम्र में होने वाले शारीरिक बदलाव और अन्य समस्याओं के विषय में अवगत कराया गया। इसमें एसडीएम वेदप्रिय आर्य, सीओ नम्रता सिंह, डा. मनोज कुमार, ईओ अरविद मिश्रा, बीडीओ घनश्याम वर्मा आदि रहे। नारी सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन के प्रति सरकार गंभीर: ईओ

बुलंदशहर। नगर पालिका सभागार में मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत गोष्ठी हुई। इस अवसर पर महिलाओं को एलईडी के माध्यम से प्रदेश सरकार द्वारा चलाई गई मिशन शक्ति के उद्देश्यों को बताया गया। पालिका ईओ मुक्ता सिंह ने बताया कि सरकार नारी सुरक्षा, नारी सम्मान एवं नारी स्वावलंबन के प्रति गंभीर है। नारी उत्थान के लिए नारी समाज को सबसे पहले शिक्षित और जागरूक होना होगा। कार्यक्रम में पूजा तेवतिया, विद्यावती तोमर, शोभा आनंद, एकता गर्ग, पूनम जिदल, ज्योति गर्ग, विनीता राणा, मीनू गोयल, कल्पना भारद्वाज, कृष्णा चौधरी के अलावा महिला संस्थाओं की पदाधिकारी मौजूद रहीं।

उधर, महारानी लक्ष्मीबाई कन्या इंटर कालेज में मिशन शक्ति कार्यक्रम हुआ। इसमें महिला उपनिरीक्षक स्वाति शर्मा ने महिलाओं व छात्राओं को आत्मरक्षा के प्रति जागरूक किया। उन्होंने बताया कि महिलाओं व छात्राओं को कहीं आते जाते समय यदि रास्ते में अथवा कार्यस्थल पर या फिर घर के आसपास कहीं कोई मनचला परेशान करता है तो घबराए नहीं। ऐसे लोगों को सबक सिखाने के लिए टोल फ्री नंबर पर कॉल कर पुलिस को सूचना दे। दारोगा राजीव कौशिक ने महिला हेल्पलाइन 1090, 112, 181 आदि के बारे में भी जानकारी दी। बताया कि शिकायत करने वालों का नाम पता गोपनीय रखा जाएगा। बालिकाओं व ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं तथा बच्चियों को मिशन शक्ति अभियान, सुरक्षा व आत्मनिर्भरता के लिए बनाए गए कानून के बारे में जानकारी दी गई। प्रधानाचार्य सीमा शर्मा, अनिल शर्मा, दीपक शर्मा के अलावा विद्यालय स्टाफ मौजूद रहा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.