दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

परशुराम जयंती पर कोरोना के विनाश को किया हवन

परशुराम जयंती पर कोरोना के विनाश को किया हवन

कृष्णा नगर बालाजी दरबार में भगवान परशुराम जन्मोत्सव मनाया गया। इसमें स्वामी परमदेव महाराज के सानिध्य में यज्ञ किया गया। कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए श्रद्धालुओं ने देश को कोरोना संकट से दूर करने की कामना करते हुए आहूतियां समर्पित की। इस मौके पर व्यापारी सुरक्षा फोरम के नगर महामंत्री संजय गोयल ने बताया कि वर्तमान समय में लोग कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहे हैं। देश की जनता को कोरोना से निजात दिलाने एवं समस्त विश्व की रक्षा करने के लिए यज्ञ किया गया। इस दौरान सभासद सुनील शर्मा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता ध्रुव शर्मा सुशील शर्मा विक्की अग्रवाल नीरज शर्मा आदि मौजूद रहे।

JagranFri, 14 May 2021 10:24 PM (IST)

बुलंदशहर, जेएनएन। कृष्णा नगर बालाजी दरबार में भगवान परशुराम जन्मोत्सव मनाया गया। इसमें स्वामी परमदेव महाराज के सानिध्य में यज्ञ किया गया। कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए श्रद्धालुओं ने देश को कोरोना संकट से दूर करने की कामना करते हुए आहूतियां समर्पित की। इस मौके पर व्यापारी सुरक्षा फोरम के नगर महामंत्री संजय गोयल ने बताया कि वर्तमान समय में लोग कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहे हैं। देश की जनता को कोरोना से निजात दिलाने एवं समस्त विश्व की रक्षा करने के लिए यज्ञ किया गया। इस दौरान सभासद सुनील शर्मा, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता ध्रुव शर्मा, सुशील शर्मा, विक्की अग्रवाल, नीरज शर्मा आदि मौजूद रहे।

घरों में रहकर मनाई भगवान परशुराम की जयंती

खुर्जा में न्याय के देवता माने जाने वाले भगवान परशुराम की जयंती शुक्रवार को लोगों ने घरों में रहकर ही मनाई। लोगों ने विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना की और उनसे कोरोना के खात्मे के लिए प्रार्थना की। नगर में परशुराम भगवान की जयंती बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाई जाती रही है और विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम भी होते रहे हैं, लेकिन कोरोना के चलते इस वर्ष भी भगवान परशुराम की जयंती लोगों ने अपने घरों में रहकर की मनाई। घरों में सबसे पहले लोगों ने भगवान परशुराम के चित्र के समक्ष विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना की। जिसके बाद उनका ध्यान किया। कालिदी कुंज निवासी गौरव शर्मा ने बताया कि परिवार के साथ उन्होंने भगवान परशुराम की जयंती घर पर ही मनाई। वहीं दूसरी तरफ छतारी में समाजसेवी शिवकुमार शर्मा उर्फ सीटू भाई ने परशुराम जयंती पर यज्ञ किया। उन्होंने बताया कि भगवान विष्णु के अवतार परशुराम का पृथ्वी पर अवतरण बैशाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हुआ था।

भगवान परशुराम का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया

औरंगाबाद क्षेत्र के गांव पवसरा में भाजपा मंडलाध्यक्ष ज्ञानेन्द्र भारद्वाज के आवास पर शुक्रवार को कोविड 19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए भगवान परशुराम के चित्र पर पुष्प माला पहनाकर जन्मोत्सव मनाया और उनके द्वारा बताये गये मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। इस मौके पर ज्ञानेन्द्र भारद्वाज ने कहा कि भगवान परशुराम विष्णु भगवान के छटे अवतार थे। इसके अलावा गांव परवाना, ईलना, जाड़ौल, बालका, चरौरा मुस्तफाबाद, पाली बेगपुर, बादशाहपुर तालाब, लखावटी में भी यज्ञ का आयोजन कर भगवान परशुराम का जन्मोत्सव मनाया गया है।

सूक्ष्म रूप से भगवान परशुराम का जन्मोत्सव मनाया

अनूपशहर में विष्णु जी के छठे अवतार के रूप में पहचान रखने वाले शस्त्र शास्त्र के ज्ञाता भगवान परशुराम जी के जन्मोत्सव पर परशुराम धाम में आरती कर उनके बताए मार्ग पर चलने का आह्वान किया गया। शुक्रवार को भगवान परशुराम के जन्मदिवस पर ब्राह्मण समाज के कुछ पदाधिकारियों ने सामाजिक दूरी का पालन करते हुए परशुराम धाम में जन्मोत्सव मनाया। पालिका चेयरमैन गोपाल शर्मा ने परशुराम जी द्वारा दुनिया को शिक्षित बनाने के लिए अपने स्तर से शस्त्र के साथ शास्त्र का ज्ञान प्रदान किया था। उन्होंने किसी से शत्रुता न करने तथा जबरन शत्रुता करने पर शत्रु को न छोड़ने का संदेश दिया था। किसी भी समाज को परशुराम जी के निर्देशों का पालन करके समाज को आगे बढ़ाना चाहिए। इस मौके पर परशुराम जी की आरती पर पूजा अर्चना की गई। इस मौके पर ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष डालचंद शर्मा ने ब्राह्मण समाज के उत्थान के लिए अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देने के साथ शिक्षित बनाने पर बल दिया। कार्यक्रम को अत्यंत सूक्ष्म रखा गया। सभी से कोरोना गाइड लाइन का पालन करने का संदेश भी दिया। इस मौके पर अखिल पाठक, डी के शर्मा, बंगाली, प्रशांत शर्मा, मेघांक शर्मा, उमाशंकर शर्मा, ध्रुव शर्मा आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.