क्रय केंद्रों पर आने लगा गेहूं, खरीद शुरू

एक अप्रैल से गेहूं खरीद के लिए क्रय केंद्र दुरुस्त हैं और कांटे बारदाना किसानों के लिए बैठने और पानी की व्यवस्था की जा चुकी है। शनिवार को गेहूं खरीद का भी श्रीगणेश हो चुका है। नगर की नवीन फल एवं सब्जी मंडी परिसर में स्थित खाद्य विभाग के क्रय केंद्र पर 166 कुंतल गेहूं खरीद हुई है। औरंगाबाद खुर्जा और डिबाई क्षेत्र में सोमवार से किसान क्रय केंद्रों पर गेहूं लेकर पहुंचेंगे।

JagranSat, 03 Apr 2021 11:01 PM (IST)
क्रय केंद्रों पर आने लगा गेहूं, खरीद शुरू

जेएनएन, बुलंदशहर। एक अप्रैल से गेहूं खरीद के लिए क्रय केंद्र दुरुस्त हैं और कांटे, बारदाना, किसानों के लिए बैठने और पानी की व्यवस्था की जा चुकी है। शनिवार को गेहूं खरीद का भी श्रीगणेश हो चुका है। नगर की नवीन फल एवं सब्जी मंडी परिसर में स्थित खाद्य विभाग के क्रय केंद्र पर 166 कुंतल गेहूं खरीद हुई है। औरंगाबाद, खुर्जा और डिबाई क्षेत्र में सोमवार से किसान क्रय केंद्रों पर गेहूं लेकर पहुंचेंगे।

जिले में 1.93 लाख हैक्टेयर जमीन में गेहूं की खेती होती है। गेहूं की फसल से 3.14 लाख किसान जुड़े हैं। विपणन विभाग ने 106 क्रय केंद्र बनाकर सरकारी दर 1975 रुपये प्रति कुंतल पर गेहूं खरीद की तैयारी कर ली है। शनिवार को हजरतपुर के उमेश कुमार शर्मा ने 70 कुंतल, त्रिवेणी कुमार उटरावली ने 52.50 कुंतल और देवेंद्र सिंह निवासी जसनावली ने 43.50 कुंतल गेहूं की क्रय केंद्र पर तौल कराई।

...

बंपर होगी गेहूं खरीद : एडीएम वित्त

वित्तीय वर्ष में गेहूं खरीद अधिक होने की उम्मीद है क्योंकि एमएसपी और बाजार भाव में प्रति कुंतल 200 रुपये से अधिक का अंतर है। ऐसे में किसान अधिक से अधिक पंजीकरण कराएं और योजना का लाभ लें। वित्तीय वर्ष में 50 रुपये प्रति कुंतल की दरों में भी वृद्धि हुई है। भुगतान व केंद्र पर किसी भी प्रकार की समस्या होने पर किसान सीधे शिकायत कर सकते हैं। इनकी समस्याओं अविलंभ निस्तारण होगा। डीएम ने गेहूं क्रय केंद्र का किया निरीक्षण

डीएम ने अनाज मंडी परिसर में स्थापित गेहूं क्रय केंद्र का औचक निरीक्षण किया। जहां उन्होंने क्रय केंद्र की व्यवस्था की जानकारी लेते हुए क्रय केंद्र के बोर्ड को अनाज मंडी के मुख्य गेट पर लगाए जाने के निर्देश दिए। जिससे कि किसानों को जानकारी मिल सके।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए अनाज मंडी में बनाए जा रहे मतगणना स्थल एवं स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करने के बाद अचानक डीएम रविन्द्र कुमार का काफिला अनाज मंडी परिसर में स्थापित पीसीएफ के गेहूं क्रय केंद्र की ओर मुड़ गया। क्रय केंद्र पर पहुंचे डीएम ने सबसे क्रय केंद्र पर मौजूद इलेक्ट्रिक तोल मशीन को देखा तथा स्वयं मशीन के उपर अपना वजन कर तोल मशीन के गुणवत्ता की परख की। डीएम ने क्रय केंद्र पर वारदाना, साफ सफाई, किसानों के बैठने के लिए स्थान आदि की जानकारी क्रय केंद्र प्रभारी उमेश राघव से ली। अंत में डीएम ने गेहूं क्रय केंद्र पर लगे क्रय केंद्र के बैनर को और बड़ा साइज में बनाकर मंडी गेट के मुख्य द्वार पर लगाए जाने के निर्देश तहसीलदार को राजकुमार भास्कर को दिए। इस मौके पर एसएसपी संतोष कुमार सिंह, एडीएम एफआर सहदेव मिश्रा, एसडीएम मोनिका सिंह, तहसीलदार राजकुमार भास्कर, मंडी सचिव नरेन्द्र शर्मा आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.