top menutop menutop menu

झमाझम बारिश में बह गए पालिका के दावे

बुलंदशहर, जेएनएन। पिछले कई दिनों से आसमान में लुकाछिपी कर रहे बादलों ने रविवार तड़के झमाझम बरसात की। मानसून की पहली बारिश में ही नगर पालिका और नगर पंचायतों के सभी दावे बह गए। शहर से देहात तक नाले उफने तो सिल्ट सड़कों और रास्तों पर बहकर आ गई।

जिलेभर में बारिश से जलभराव हुआ। शहर का कालाआम चौराहा, भूड़ चौराहा, शिकारपुर रोड, हाइडिल कालोनी, देवीपुरा, बीसा कालोनी, दिल्ली रोड, स्याना अड्डा और अनूपशहर अड्डा समेत पचास से अधिक स्थानों पर जलभराव हुआ। बारिश होने के बाद पानी को निकलने में तीन घंटे का समय लग गया। जलभराव के चलते लोगों को आवागमन में दिक्कत हुई। जलभराव का ये आलम तो तब था, जबकि जिलेभर की पालिका और नगर पंचायतों ने बरसात से पहले जून में लाखों रुपये खर्च कर अपने-अपने क्षेत्र के नाले साफ कराए हैं। जलभराव से परेशान लोग पालिका चेयरमैन, ईओ और पालिका कर्मचारियों को फोन करते रहे। सभासद सुनील शर्मा उर्फ टीटू का कहना है कि अभी तो पहली बारिश है। आगे पूरा सीजन पड़ा है तो शहर के क्या हालात होंगे।

सड़कों पर उठा कीचड़

शहर में सीवर लाइन निर्माण कार्य चल रहा है। जिन सड़कों पर सीवर लाइन की खोदाई चल रही है या सड़क खोदी पड़ी है, वहां बारिश के पानी से कीचड़ इस कदर उठा, कि पैदल चलना भी मुश्किल हो गया। वर्जन::::

नाले पुराने हैं और आबादी लगातार बढ़ रही है। कुछ नालों पर अतिक्रमण रखते हैं। इससे नाले सही तरीके से साफ नहीं हो पाते हैं। नतीजन बरसात में जलभराव की समस्या खड़ी हो जाती है। नाले साफ कराए थे। बारिश में भी हमने कर्मचारियों की टीम शहर का हाल देखने के लिए निकाली।

-निहालचंद, पालिका ईओ

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.