लंबित मांगों को लेकर डीआइओएस कार्यालय पर गरजे शिक्षक

उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ चेत नारायण गुट ने लंबित मांगों को लेकर हुंकार भरी। डीआइओएस कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन कर प्रशासन को ज्ञापन सौंपा। मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

JagranMon, 20 Sep 2021 11:55 PM (IST)
लंबित मांगों को लेकर डीआइओएस कार्यालय पर गरजे शिक्षक

बुलंदशहर, जेएनएन। उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ चेत नारायण गुट ने लंबित मांगों को लेकर हुंकार भरी। डीआइओएस कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन कर प्रशासन को ज्ञापन सौंपा। मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

संगठन के जिलाध्यक्ष राजेश कुमार भारद्वाज ने बताया कि काफी समय से लंबित मांगों को पूरा कराने के लिए आंदोलन किया जा रहा है। सरकार को चेताने के लिए अब संगठन से जुडे़ शिक्षक सड़क पर उतर आए हैं। प्रांतीय मंत्री सीपी अग्रवाल ने कहा कि लंबित मांगों के पूरा नहीं होने से शिक्षकों में नाराजगी है। सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन करने को मजबूर हो रहे हैं। इसी कड़ी में सोमवार को डीआइओएस कार्यालय पर पहुंचकर शिक्षकों ने आवाज बुलंद की। पुरानी पेंशन, राजकीय कर्मचारी की भांति चिकित्सा सुविधा दिलाना, वित्त विहीन शिक्षकों का मानदेय, स्थानांतरण की प्रक्रिया को सरलीकरण करना आदि मांगों को लेकर प्रशासन के माध्यम से सीएम को ज्ञापन प्रेषित किया। इस दौरान ब्रजमोहन शर्मा, जगवीर सिंह, रतन सिंह यादव, कमल सिंह, सुंदरपाल सिंह, राम करन सिंह आदि मौजूद रहे। पित्र पूर्णिमा पर हजारों श्रद्धालुओं ने गंगा में लगाई डूबकी

डिबाई । सोमवार को पित्र पूर्णिमा के तहत नगर के निकटवर्ती कर्णवास के गंगा तट पर पहुंचे स्थानीय सहित दूर दराज क्षेत्र के हजारों श्रद्धालुओं ने अपने अपने पितरों को याद करते हुए गंगा में आस्था की डुबकी लगाई। श्रद्धालुओं ने गंगा के जल में खड़े होकर गंगा के जल से अपने अपने पितरों को जल तर्पण किया। इस दौरान कर्णवास के बाजार घाट, देवत्रय घाट पर श्रद्धालुओं की भीड़ मौजूद रही। वही डिबाई से कर्णवास की ओर जाने वाले मार्ग व कर्णवास से राजघाट - नरौरा की ओर जाने वाले मार्ग में जाम की स्थिति बनी रही।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.