एमएलसी चुनाव के लिए बूथ पर पहुंची पोलिग पार्टी, मतदान आज

एमएलसी चुनाव के लिए बूथ पर पहुंची पोलिग पार्टी, मतदान आज

उत्तर प्रदेश विधान परिषद सदस्य के लिए खंड स्नातक एवं खंड शिक्षक यानी एमएलसी के लिए मंगलवार को मतदान होगा। सोमवार देर शाम तक कड़ी सुरक्षा के बीच सभी टीम मतदेय स्थलों पर पहुंच भी गईं। स्नातक के लिए 19 और शिक्षक के लिए 44 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। चुनावों को शांतिपूर्वक ढंग से कराने के लिए सात जोनल 10 सेक्टर और 21 माइक्रो आब्जर्वर निगरानी करेंगे।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 11:24 PM (IST) Author: Jagran

जेएनएन, बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश विधान परिषद सदस्य के लिए खंड स्नातक एवं खंड शिक्षक यानी एमएलसी के लिए मंगलवार को मतदान होगा। सोमवार देर शाम तक कड़ी सुरक्षा के बीच सभी टीम मतदेय स्थलों पर पहुंच भी गईं। स्नातक के लिए 19 और शिक्षक के लिए 44 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। चुनावों को शांतिपूर्वक ढंग से कराने के लिए सात जोनल, 10 सेक्टर और 21 माइक्रो आब्जर्वर निगरानी करेंगे। मतदान सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक होगा सभी बूथों पर मतदान

मंगलवार को उत्तर प्रदेश विधान परिषद के खंड स्नातक-शिक्षक के लिए मतदान होगा। इस चुनाव के लिए जिले के कुल 38802 मतदाता मतदान करेंगे। जिला प्रशासन ने चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से कराने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। जिला प्रशासन ने सात जोनल मजिस्ट्रेट, 10 सेक्टर मजिस्ट्रेट और 21 माइक्रो आब्जर्वर की तैनाती की गई है। जनपद में स्नातक के लिए चार और शिक्षक के लिए एक प्रत्याशी मैदान पर है। स्नातक के लिए जनपद में 22146 पुरुष और 12591 महिला मतदाता हैं। शिक्षक चुनाव के लिए 2703 पुरुष और 1362 महिला मतदाता है। स्नातक के लिए 19 और शिक्षक के लिए 44 मतदान केंद्र बना गए हैं। मतदान कराने के लिए कुल 250 कर्मिकों की तैनाती की गई है। सभी पोलिग पार्टियां बूथों पर पहुंच चुकी हैं। कोरोना को लेकर बरती जाएगी सावधानी

कोरोना के मद्देनजर प्रत्येक बूथ पर आशाओं की तैनाती की गई है। आशा बूथ पर रहकर आने वाले प्रत्येक मतदाता की थर्मल स्कैनिग करेंगी। साथ ही सोशल डिस्टेंसिग का भी ध्यान रखेंगी। मतदान केन्द्रों पर तैनात कार्मिकों को छह-छह मास्क और छह-छह जोड़ी ग्लव्स दिए गए हैं। हाथों को सैनिटाइज करने के लिए 100-100 एमएल सेनेटाइजर भी दिया है। मतदान से पहले मतदाताओं को ग्लव्स भी दिए जाएंगे। जिससे मशीन तक संक्रमण न पहुंचे।

बूथ के अंदर नहीं जाएंगी प्रतिबंधित वस्तुएं

जिला निर्वाचन अधिकारी रविंद्र कुमार ने मतदान को शांतिपूर्ण ढंग से कराने के लिए पुलिसकर्मियों से कहा कि मतदान संपन्न होने के बाद मतपेटिका को सुरक्षित स्ट्रांग रूम में जमा कराएं। मतदान केन्द्र पर बूथ के अंदर किसी भी मतदाता को पानी की बोतल, हैंड सैनिटाइजर, इंक पेन, कागज, मोबाइल, ज्वलनशील पदार्थ आदि प्रतिबंधित वस्तुओं को ले जाने की अनुमति न दी जाए। कोई भी मतदाता डमी बैलेट पेपर भी अपने साथ मतदान कक्ष के अंदर नहीं ले जाएगा। मतदाता से अतिरिक्त कोई भी अनावश्यक व्यक्ति बूथ के अंदर प्रवेश नहीं करें। यदि केन्द्र पर किसी के द्वारा कानून व्यवस्था भंग करने की कोशिश की जाती है तो उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाए। मेरठ स्ट्रांग रूम में जमा होंगी मतपेटी

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया मतदान केन्द्र की 200 मीटर की परिधि में किसी भी प्रकार की भीड़ इकट्ठा होने की अनुमति नहीं है। उन्होंने पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों से कहा कि मतदान समाप्ति के बाद मतपेटिकाओं को मेरठ स्ट्रांग रूम में जमा कराएं। इसके लिए पर्याप्त पुलिस बल साथ रहे। वाहनों में अग्निशमन यंत्र की उपलब्धता भी रखी जाए। इन्होंने कहा

मतदान के लिए सभी व्यवस्थाएं पूरी हैं। शांतिपूर्वक मतदान के लिए पुलिस तैनात रहेगी। चुनाव अधिकारी लगातार निरीक्षण कर रिपोर्ट देंगे। किसी भी तरह मतदान प्रभावित करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

- रविंद्र कुमार, जिला निर्वाचन अधिकारी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.