वन विभाग ने गंगा पौधारोपण सप्ताह मनाया, रोपे फलदार पौधे

जेएनएन बुलंदशहर क्षेत्र के मांडू गंगा घाट पर वन विभाग के अधिकारियों ने गंगा पौधारोपण सप्ताह मनाया और फलदार पौधारोपण कर लोगों से पर्यावरण बचाने का संदेश दिया।

JagranThu, 29 Jul 2021 11:18 PM (IST)
वन विभाग ने गंगा पौधारोपण सप्ताह मनाया, रोपे फलदार पौधे

जेएनएन, बुलंदशहर: क्षेत्र के मांडू गंगा घाट पर वन विभाग के अधिकारियों ने गंगा पौधारोपण सप्ताह मनाया और फलदार पौधारोपण कर लोगों से पर्यावरण बचाने का संदेश दिया। इस मौके पर डीएफओ विनीता सिंह और वन विभाग के कर्मचारी मौजूद रहे।पर्यावरण को हरा-भरा बनाने के लिए सरकार विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम चला रही है। वन विभाग गंगा किनारे पौधारोपण का विशेष कार्यक्रम चलाकर भूमि व जल का संरक्षण कर रहा है।

गुरुवार को क्षेत्र के मांडू गंगा घाट किनारे मवई, मांडू हसनगढी में वन विभाग की भूमि पर पौधे लगाकर गंगा पौधारोपण सप्ताह मनाया गया। डीएफओ विनीता सिंह ने बताया कि वन विभाग द्वारा क्षेत्र में 80 हजार पौधे रोपने का लक्ष्य रखा गया है। गंगा पौधारोपण सप्ताह के अंतर्गत हफ्ते भर में हजारों पौधे रोपे जाएंगे। डीएफओ विनीता सिंह ने पौधारोपण करके गंगा पौधारोपण सप्ताह की शुरुआत की। जिसमें पीपल,पिलखन,जामुन,आम, अमरूद आदि फलदार पौधे लगाए गए। इस दौरान कार्यक्रम में एसडीओ गौतम सिंह, रेंजर जीपी सिंह, वन दरोगा दीपक कुमार,वनरक्षक सनी गौतम, जिला पंचायत सदस्य सोनू लोधी, कमल कुमार प्रवेश कुमार आदि मौजूद रहे।

बुल- 45 : पूर्व मंत्री डीपी यादव ने विद्यालय में पौधारोपण किया संवाद सहयोगी, गुलावठी : वैदिक इंटर कालेज औरंगाबाद अहीर मेँ पूर्व मंत्री डीपी यादव ने पौधारोपण किया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण संतुलन के लिए पौधारोपण जरूरी है इसलिए लोगों को एक-एक पौधा अवश्य लगाना चाहिए। उन्होंने वृक्षों की उपयोगिता पर भी प्रकाश डाला। इस मौके पर उन्होंने विद्यालय परिसर में विभिन्न प्रजातियों के पौधे रोपे। सुरेंद्र यादव प्रधानाचार्य, रोहताश यादव, जयराम सिंह, शिवम यादव, शुभम यादव, कमल, रामपाल यादव, अनिल भटौना आदि लोग मौजूद रहे।

जल बचाने के प्रति किया जागरूक संवाद सहयोगी, खुर्जा: गांव नगला में बैठक आयोजित करके युवाओं ने जल बचाने के प्रति ग्रामीणों को जागरूक किया। साथ ही उनसे बेवजह पानी नहीं बहाने की अपील की गई।

गुरुवार को नव भारत सामाजिक विकास संस्था के कार्यकर्ता गांव नगला में पहुंच गए। जहां उन्होंने ग्रामीणों के साथ बैठक आयोजित की। जिसमें ग्रामीणों को बताया कि जल बिना मानव जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती है। क्षेत्र में भूजल का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। ऐसे में जल बचाने की दिशा में हर किसी को कदम उठाना चाहिए। क्योंकि अगर भूजल स्तर लगातार गिरता रहा, तो लोग पीने के पानी के लिए भी तरस जाएंगे। उन्होंने ग्रामीणों से जल को बेवजह नहीं बहाने और जल संरक्षण की दिशा में कार्य करने की अपील की। इसमें बॉबी राणा, विकास भाटी, अनुज, कपिल, शैलेंद्र, मोहन सिंह आदि रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.