जरा संभलकर. धूल का गुबार और जाम कहीं आपको परेशान न कर दे

जेएनएन बुलंदशहर शहर में सीवर लाइन डालने में निर्माण कंपनियां निर्माण में मानकों को दर किनार कर काम कर रही हैं।

JagranThu, 17 Jun 2021 09:20 PM (IST)
जरा संभलकर. धूल का गुबार और जाम कहीं आपको परेशान न कर दे

जेएनएन, बुलंदशहर : शहर में सीवर लाइन डालने में निर्माण कंपनियां निर्माण में मानकों को दर किनार कर काम कर रही हैं। बारिश के बाद शहर की अधिकांश कालोनियों में सीवर लाइन जमीन में धंस रही है। निर्माण कंपनियों की हीलाहवाली से शहर में धूल उड़ने के साथ ही जाम की स्थिति बनी हुई है।

शहर में अमृत योजना के तहत सीवर लाइन डालने का काम अप्रैल 2018 में निर्माण कंपनियों द्वारा शुरू किया था लेकिन निर्माण कार्य पूरा करने की अंतिम तिथि के एक साल बीतने के बाद काम पूरा नहीं हो पाया है। निर्माण कंपनी सीवर लाइन बिछाने में मानकों को नजर अंदाज कर रहीं हैं। जिससे शहर की अधिकांश कालोनियों में सीवर लाइन के मेन हाल के ढक्कन टूटने के साथ ही बारिश से सीवर लाइन के मैन हाल के पास की जमीन भी धस रही है। सीवरलाइन बिछाने में गुणवत्ता का ध्यान नहीं देने से निर्माण कार्य पूरा होने से पहले सीवर लाइन पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। वहीं सीवर लाइन का काम अधर में लटका हुआ है। हालात ये हैं कि भूड़ चौराहे से नुमाइश फ्लाईओवर तक सीवर लाइन डालने का काम पूरा नहीं हो पाया है। जिससे दिल्ली रोड पर धूल उड़ने के साथ ही हर समय जाम की स्थिति बनी रहती है। कहीं सड़क उखड़ी पड़ी है तो कहीं पर लाइन डली ही नहीं है। कई स्थानों पर सीवर के मेन होल भी सही नहीं लगे हैं। सीवर निर्माण को लेकर तमाम शिकायतें हुई और कई बार प्रदर्शन भी हुए हैं जिम्मेदार अफसर मौन हैं।

सीवरलाइन पर एक नजर

320- करोड़ रुपये से हो रहा सीवर निर्माण

237- किलोमीटर शहर में बननी है लाइन

2020- फरवरी तक पूरा होना था काम

03- कंपनियां कर रही सीवर का काम

42- करोड़ रूपये की लागत से बन रहा एसटीपी

..

इन्होंने कहा..

जहां से मैन के ढक्कन टूटने और लाइन बैठने की शिकायत आ रही हैं। उनकों निर्माण कंपनी द्वारा ठीक कराया जा रहा है। निर्माण कंपनियों को नोटिस भी जारी किया जा चुका है। सितंबर माह में सीवरलाइन का काम पूरा होना है।

-एमएम कुरैशी, एक्सईएन जलनिगम

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.