हमारा संविधान हमारा गौरव है: अवनीश अग्रवाल

हमारा संविधान हमारा गौरव है: अवनीश अग्रवाल

जेएनएन बिजनौर। नार्थ इंडिया कालेज आफ हायर एजुकेशन एवं मौलाना मोहम्मद अली जौहर हायर एजुक

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 06:23 PM (IST) Author: Jagran

जेएनएन, बिजनौर। नार्थ इंडिया कालेज आफ हायर एजुकेशन एवं मौलाना मोहम्मद अली जौहर हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट में संविधान दिवस पर संगोष्ठी आयोजित हुई।

नार्थ इंडिया कालेज आफ हायर एजुकेशन में प्रबंध निदेशक अवनीश अग्रवाल ने कहा कि आज के दिन हम विदेशी ताकतों के अत्याचारों से पूरी तरह आजाद हो गए थे। कार्यकारी निदेशक अभिनव अग्रवाल ने कहा कि संविधान सभा के अध्यक्ष डा.भीमराव आंबेडकर के अथक प्रयासों के बाद ही भारत को अपना संविधान मिला। प्राचार्य डा. पीसी राम ने कहा कि हालांकि 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू हुआ था, लेकिन आज के दिन संविधान के कुछ अनुच्छेद लागू हुए थे। गोष्ठी में उप प्राचार्या डा. नवनीत राजपूत, शिक्षा विभाग के विभागाध्यक्ष डा. रामकिशोर सिंह, प्रवक्ता समसपाल आदि ने भी विचार व्यक्त किए।

वहीं, किरतपुर स्थित मौलाना मोहम्मद अली जौहर हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट में आयोजित गोष्ठी में प्रबंधक साईम राजा ने कहा कि हमारा संविधान विश्व का सबसे बडा संविधान है। प्राचार्य मोहित बंसल ने कहा कि हमें अपने अधिकारों की जानकारी रखने के साथ साथ दायित्वों का भी निर्वाह करना चाहिए। बीएड विभागाध्यक्ष डा बेगराज यादव ने कहा कि डा.भीमराव आंबेडकर की 125वीं जयंती वर्ष के रूप में 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाता हैं। कार्यक्रम में प्रवक्ता गजाला, डा. अनम, पंकज यादव, निखिल, डा. शमशाद एवं डा. चारू ने विचार व्यक्त किए। आरजेपी इंटर कालेज में मनाया संविधान दिवस

जेएनएन, बिजनौर। राजा ज्वाला प्रसाद इंटर कालेज बिजनौर में एनएसएस एवं एनसीसी के संयुक्त तत्वावधान में गुरुवार को संविधान दिवस मनाया गया। इस अवसर पर अंग्रेजी प्रवक्ता ग़यूर आसिफ ने छात्रों, शिक्षकों तथा सभी उपस्थित कर्मचारियों को संविधान की प्रस्तावना का मूल पाठ का वाचन कराया। कहा कि संविधान किसी भी देश के लिए सर्वोच्च एवं सर्व पवित्र पुस्तक होती है। उन्होंने कहा कि अपने अधिकारों की बात करते समय हमें अपने कर्तव्यों का बोध भी होना चाहिए। संविधान जहां हमें अधिकार देता है, वही हमें हमारे कर्तव्यों का बोध भी कराता है। इस अवसर पर विधु शेखर चौहान, सुधांशु वत्स, एसपी गंगवार, करणवीर सिंह, सुधीर राजपूत, बृजेश राजपूत, पीके सिंह, तेजपाल सिंह, बालेश कुमार, मनोज यादव, विनोद यादव, मीना सिंह, रश्मि गहलोत आदि उपस्थित रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.